पंजाब एंड सिंध बैंक के अधिकारी ने गेम के लिए लोगों की 52 करोड़ की तोड़ी एफडी 

मुंबई- एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट यानी ED ने पंजाब और सिंध बैंक के उस पूर्व अधिकारी की संपत्ति कुर्क कर ली है, जिन्होंने ऑनलाइन गेम खेलने के लिए कस्टमर्स की ₹52 करोड़ से ज्यादा की फिक्स डिपॉजिट (FD) तोड़ दी थी। केंद्रीय जांच एजेंसी ने धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज होने के बाद पूर्व बैंक अधिकारी बेदांशु शेखर मिश्रा पर जब्ती की कार्रवाई की है। 

ED ने बताया कि आरोपी बैंक कर्मचारी की ₹2.56 करोड़ की अचल संपत्ति और फिक्स डिपॉजिट जब्त की है। धोखाधड़ी का यह मामला 2021-22 का है, जो सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (CBI) की ओर से दर्ज की गई FIR पर बेस्ड है। एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म X पर बेदांशु शेखर पर की गई कार्रवाई की जानकारी दी। 

बेदांशु शेखर मिश्रा ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के नॉर्थ कैंपस में स्थित खालसा कॉलेज ब्रांच में काम करने के दौरान अपनी सिस्टम ID और अन्य स्टॉफ की ID का इस्तेमाल करते हुए FD तोड़ी थी। बैंक को इसके बारे में पता चलने के बाद नवंबर 2022 उन्हें सस्पेंड कर दिया था।

जांच एजेंसी का दावा है कि बेदांशु शेखर मिश्रा ने 52,99,53,698 रुपए की हेराफेरी की। उन्होंने बैंक के साथ ही अकाउंट होल्डर्स के साथ भी धोखाधड़ी और जालसाजी की। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *