गो फर्स्ट को खरीदने के लिए तीन कंपनियां रेस में, विदेशी कंपनी भी शामिल 

मुंबई- नकदी संकट से जूझ रही एयरलाइंस गो फर्स्ट को खरीदने के लिए तीन कंपनियों ने रुचि दिखाई है। इनमें देश की बजट एयरलाइन स्पाइसजेट, अफ्रीका की सैफ्रिक इन्वेस्टमेंट्स और शारजाह की एविएशन कंपनी स्काई वन शामिल हैं। 

तीनों कंपनियों ने गो फर्स्ट को खरीदने की बोली लगाने की तारीख बढ़ाने की मांग की है। अब बोली लगाने की तारीख बढ़ेगी या नहीं इस पर लैंडर्स की कमेटी आने वाले दिनों में फैसला लेगी। 

गो फर्स्ट एयरलाइंस को खरीदने के लिए बोली लगाने की आखिरी तारीख 22 नवंबर 2023 थी, लेकिन तब तक किसी ने भी इसे खरीदने की इच्छा नहीं जताई थी। अब जब तीन कंपनियों ने एयरलाइंस को खरीदने की इच्छा जताई है तो उम्मीद जताई जा रही है कि लेंडर्स बोली लगाने की डेट बढ़ाने की मांग को मान सकते हैं। 

गो फर्स्ट पर अपने लेंडर्स का 6,521 करोड़ रुपए बकाया है। एक्यूइट रेटिंग्स एंड रिसर्च ने 19 जनवरी की रिपोर्ट में कहा था कि सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का सबसे ज्यादा 1,987 करोड़ रुपए का एक्सपोजर था, इसके बाद बैंक ऑफ बड़ौदा का 1,430 करोड़ रुपए, डॉयचे बैंक का 1,320 करोड़ रुपए और IDBI बैंक का 58 करोड़ रुपए बकाया था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *