पहले दिन ही हर्षा इंजीनियरिंग का आईपीओ ढाई गुना से ज्यादा भरा 

मुंबई- हर्षा इंजीनियर्स इंटरनेशनल लिमिटेड (HEIL) का इनिशियल पब्लिक ऑफर (IPO) कल पहले दिन ही ढाई गुना से ज्यादा भर गया। 17 सितंबर को यह बंद होगा। HEIL के IPO का प्राइस बैंड 314 से 330 रुपए प्रति इक्विटी शेयर है। यह IPO पहले दिन 2.87 गुना सब्सक्राइब भी हो चुका है। 

BSE की वेबसाइट के मुताबिक, IPO का लॉट साइज 45 शेयर्स का है। मतलब खुदरा निवेशक कम से कम 45 शेयर्स खरीद सकते हैं। जिसके लिए 14,850 रुपए निवेश करना होगा। वहीं इसके अधिकतम 13 लॉट खरीद सकते हैं। जिसके लिए 1,93,050 रुपए का निवेश करना होगा। 

कंपनी का शेयर 14 सितंबर को ग्रे मार्केट में 70% यानी 210 रुपए प्रति शेयर के प्रीमियम पर पहुंच गया है। ग्रे मार्केट प्राइस (GMP) के हिसाब से देखें तो अपर प्राइस बैंड 330 रुपए के लिहाज से इसकी लिस्टिंग 26 सितंबर को 540 रुपए यानी 70% के प्रीमियम के साथ हो सकती है। 

हर्षा इंजीनियर्स के IPO यानी पब्लिक इश्यू का साइज 755 करोड़ रुपए (1,72,12,410 शेयर्स) है। जिसमें 455 करोड़ रुपए की वैल्यू के इक्विटी शेयरों का फ्रेश इश्यू और मौजूदा शेयरहोल्डर्स का 300 करोड़ तक का ऑफर-फॉर-सेल (OFS)शामिल है। 

सरल शब्दों में समझें तो ऑफर-फॉर-सेल की पेशकश एक ऐसी प्रक्रिया है, जो प्रमोटरों को एक कंपनी में अपनी हिस्सेदारी को पारदर्शी तरीके से कम करने की अनुमति देती है। प्रमोटर द्वारा बेचे गए इन शेयरों को जनता को बिक्री के लिए पेश किया जाता है। कंपनी के इश्यू का 50% हिस्सा क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स (QIP) के लिए रिजर्व रखा गया है।  

हर्षा इंजीनियर्स इंटरनेशनल लिमिटेड एविएशन और एयरोस्पेस, रेलवे, ऑटोमोटिव, रिन्यूएबल एनर्जी, एग्रीकल्चर और अन्य इंडस्ट्री के लिए कई तरह के इंजीनियरिंग प्रोडक्ट्स मैन्युफैक्चर करती है। यह कंपनी कंस्ट्रक्शन माइनिंग के सेक्टर में भी इंजीनियरिंग प्रोडक्ट्स प्रोवाइड करती है। कंपनी फ्रेश इश्यू से होने वाली कमाई में से 270 करोड़ रुपए का इस्तेमाल कर्ज चुकाने के लिए करेगी।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.