यूपीएससी में पहले तीन रैंक पर लड़कियों का जलवा, शीर्ष 10 में 5 लड़कियां 

मुंबई- संघ लोक सेवा आयोग द्वारा सिविल सेवा परीक्षा 2021 का फाइनल रिजल्ट सोमवार को डिक्लेयर किया गया। जिसमें श्रुति शर्मा ने पहली रैंक हासिल की। टॉप करने वाली श्रुति बिजनौर में जन्मी हैं और दिल्ली से हिस्ट्री की पढ़ाई की है। जबकि दूसरी रैंक अंकिता अग्रवाल ने और तीसरी रैंक गामिनी सिंगला के नाम रही। टॉप-10 रैंक होल्डर्स में से 4 लड़कियां रहीं। साल 2021 के रिजल्ट में टॉप 10 में 5 लड़कियां थीं। 

संघ लोक सेवा आयोग की रिजल्ट लिस्ट के मुताबिक, 685 कैंडिडेट्स ने परीक्षा पास की है। इनमें से 180 IAS, 37 IFS और 200 IPS के लिए पास हुए हैं। सिविल सेवा परीक्षा पास करने वाले कैंडिडेट्स का सिलेक्शन UPSC ने तीन राउंड- प्रीलिम्स परीक्षा, मेन्स एग्जाम और इंटरव्यू राउंड में उनके प्रदर्शन के आधार पर किया। इनके अलावा 80 उम्मीदवारों की दावेदारी प्रोविजनल है। 

श्रुति ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के सेंट स्टीफंस कॉलेज से पढ़ाई की है। इसके बाद उन्होंने पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में (JNU) में एडमिशन लिया।और डिग्री हासिल करने के लिए दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स (डीएसई) में दाखिला लेने के लिए जेएनयू छोड़ दिया। वे अपनी सफलता का श्रेय जामिया मिलिया इस्लामिया आवासीय कोचिंग अकादमी (RCA) को देती हैं। शर्मा के अलावा, 23 अन्य छात्रों ने भी जामिया आरसीए से सिविल सेवा परीक्षा उत्तीर्ण की है। 

UPSC CSE-2021 प्रारंभिक परीक्षा 10 अक्टूबर 2021 को हुई थी। जिसका रिजल्ट 29 अक्टूबर को जारी हुआ। मेन्स एग्जाम 7 से 16 जनवरी 2022 तक चला था। जिसके रिजल्ट 17 मार्च 2022 को आए थे। इसके बाद तीसरे राउंड इंटरव्यू का दौर 5 अप्रैल को शुरू होकर 26 मई तक चला। इसके बाद 30 मई को फाइनल रिजल्ट डिक्लेयर कर दिया गया। 

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2020 में पांच लड़कियों ने बाजी मारी थी। इनमें से जागृति अवस्थी की सेकंड रैंक थी। उन्होंने 1052 अंक हासिल किए थे। तीसरे स्थान पर अंकिता जैन, पांचवें स्थान पर ममता यादव तो 6 नंबर पर मीरा के ने नाम कमाया। वहीं अपाला मिश्रा को 9 वीं रैंक मिली थी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.