जेप्टो सीईओ बोले, डीमार्ट को पीछे छोड़ बनेगी 2.5 लाख करोड़ की कंपनी

मुंबई- इंस्टेंट ग्रॉसरी डिलीवरी कंपनी जेप्टो अगले 18 से 24 महीने में सेल्स के मामले में दिग्गज ऑफलाइन रिटेल कंपनी डीमार्ट को पीछे छोड़ सकती है। जेप्टो के को-फाउंडर और CEO आदित पलिचा ने 6 जुलाई को एक इवेंट में यह बात कही है।

आदित पलिचा ने कहा, ‘डीमार्ट 30 अरब डॉलर की कंपनी है और सेल्स के मामले में वे हमसे 4.5 गुना ज्यादा हैं। अगर हम अच्छा प्रदर्शन करना जारी रखते हैं, तो हमारी सेल्स हर साल 2-3 गुना बढ़ती रहेगी। इस रफ्तार से हम अगले 18-24 महीनों में डीमार्ट से आगे निकल जाएंगे, जो एक शानदार कंज्यूमर कंपनी है।’

पलिचा ने कहा कि जेप्टो देश के टॉप 40 शहरों में 5 से 7.5 करोड़ परिवारों पर फोकस कर रहा है। इस आबादी का देश की ग्रॉसरी और डेली नीड्स आइटम्स की खरीदारी में काफी योगदान है। देश का किराना मार्केट वित्त वर्ष 2029 तक बढ़कर 850 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगा, जिसमें से इन परिवारों का योगदान 400 अरब डॉलर का होगा।

पलिचा ने कहा, ‘किराना सामान उन सभी कैटेगरी से बड़ा है, जिनकी सेवाएं अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियां देती हैं। हम सबसे बड़ी कैटेगरी का निर्माण कर रहे हैं। हम 3 साल से भी कम समय में 0 से 10,000 करोड़ रुपए (सेल्स में) तक पहुंच गए हैं। यह इंटरनेट इंडस्ट्रीज में ऐसा करने वाली सबसे तेज भारतीय कंपनी है। फ्लिपकार्ट को इस टारगेट तक पहुंचने में 4 साल लगे थे। हमने यह 2.5 सालों में ही कर दिया।’

आदित पलिचा ने कहा, ‘हम अपने आप को एक हाइपरलोकल वॉलमार्ट के रूप में देखते हैं। इसी बात ने हमें विस्तार करने और मुनाफे के उस पॉइंट तक पहुंचने में मदद की है, जहां हम आज पहुंचे हैं। जेप्टो को 2021 में आदित पलीचा और कैवल्य वोहरा ने स्थापित किया था। जेप्टो ने फंड जुटाने पर भी बहुत तेजी से काम किया है। कंपनी ने हाल ही में 30,064 करोड़ रुपए की वैल्यूएशन पर 5,553 करोड़ रुपए फंड जुटाया है।

जेप्टो ने इससे पहले अगस्त 2023 में 1,962 करोड़ रुपए का फंड जुटाया था, तब कंपनी को 11,691 करोड़ रुपए की वैल्यूएशन के साथ यूनिकॉर्न स्टेटस मिला था। पालिचा ने कहा था कि कंपनी 100 करोड़ डॉलर की सेल्स के साथ करीब ढाई साल में अपने ग्रॉस मर्चेंटाइज वैल्यू (GMV) को बढ़ाने में कामयाब रही। उम्मीद है कि हम जल्द ही IPO लाने के लिए तैयार हो जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *