आरबीआई के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल बने ब्रिटानिया में स्वतंत्र निदेशक

मुंबई- ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर उर्जित पटेल को अपना नया स्वतंत्र निदेशक नियुक्त किया है। यह नियुक्ति 2 जुलाई 2024 से 5 साल के लिए मान्य होगी। इस खबर के बाद ब्रिटानिया के शेयरों में 1% की बढ़ोतरी देखने को मिली।

बुधवार को ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने एक बयान जारी कर यह घोषणा की कि उसने भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल को कंपनी के अतिरिक्त गैर-कार्यकारी निदेशक के रूप में नियुक्त किया है।

कंपनी ने कहा, ‘नामांकन और पारिश्रमिक समिति की सिफारिश पर निदेशक मंडल ने डॉ. उर्जित पटेल को कंपनी के एक अतिरिक्त गैर-कार्यकारी स्वतंत्र निदेशक के रूप में नियुक्त किया है। यह नियुक्ति 2 जुलाई 2024 से 1 जुलाई 2029 तक लगातार 5 वर्षों के लिए मान्‍य होगी। बशर्ते इसे कंपनी के सदस्यों की ओर से अनुमोदित किया जाए।’

60 साल के उर्जित पटेल 2016-18 के बीच RBI के 24वें गवर्नर रहे हैं। अपने कार्यकाल के दौरान वह बैंक फॉर इंटरनेशनल सेटलमेंट्स के निदेशक मंडल के सदस्य थे। साथ ही उन्होंने वित्तीय स्थिरता संस्थान के सलाहकार बोर्ड में भी काम किया है। जनवरी 2013 से पटेल RBI में मौद्रिक नीति, आर्थिक अनुसंधान और वित्तीय बाजार संचालन के प्रभारी डिप्टी गवर्नर थे।

2013 से 2018 तक पटेल G20, BRICS के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के गवर्नर समूहों में एक प्रमुख/डिप्टी के रूप में कार्यरत थे। 2022-2024 के दौरान वह एशियाई इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर इन्‍वेस्‍टमेंट बैंक में उपाध्यक्ष (इन्‍वेस्‍टमेंट ऑपरेशंस रीजन 1) रहे। वर्तमान में पटेल राष्ट्रीय लोक वित्त और नीति संस्थान के अध्यक्ष हैं। RBI में शामिल होने से पहले पटेल ने लगभग 15 वर्षों तक रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और IDFC लिमिटेड सहित कई कंपनियों में विभिन्न पदों पर काम किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *