जेपी मॉर्गन बॉन्ड इंडेक्स में आज से शामिल होंगी भारतीय प्रतिभूतियां

नई दिल्ली। भारतीय सरकारी बॉन्ड शुक्रवार से जेपी मॉर्गन गवर्नमेंट बॉन्ड इंडेक्स – इमर्जिंग मार्केट (जीबीआई-ईएम) में शामिल होंगे। भारत का जेपी मॉर्गन ईएम बॉन्ड इंडेक्स में एक फीसदी भार होगा। 28 जून से शुरू होकर 31 मार्च, 2025 तक 10 महीने की अवधि में धीरे-धीरे बढ़कर 10 फीसदी हो जाएगा। इससे भारत के बॉन्ड बाजार में 20-22 अरब डॉलर के विदेशी निवेश का अनुमान है।

हालांकि, पिछले साल सितंबर में शामिल किए जाने की घोषणा के बाद से भारत के इंडेक्स योग्य बॉन्डों में पहले ही 10 अरब डॉलर के निवेश आए हैं।
इस पहल का असर यह होगा कि विदेशी निवेशकों की बढ़ती रुचि से भारतीय सरकारी बॉन्ड की मांग बढ़ेगी, जिससे बॉन्ड की कीमतें भी बढ़ सकती हैं। बॉन्ड की बढ़ती मांग से ब्याज दरों में कमी आने की संभावना है, जो सरकार और कंपनियों के लिए उधारी को सस्ता बना देगा। विदेशी निवेश में बढ़ोतरी से रुपये मजबूत हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *