दाउद इब्राहिम के बांया हाथ रहे छोटा शकील के साले की हुई मौत, गम में डूबा

मुंबई- आरिफ अबूबकर शेख उर्फ आरिफ भाईजान की मौत के बाद अंडरवर्ल्ड के गलियारों में अब सवाल उठ रहे हैं। छोटा शकील के साले आरिफ की मौत शुक्रवार को मुंबई के जेजे अस्पताल में हुई। डॉक्टरों के मुताबिक, 63 साल के आरिफ की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुए है।

हालांकि, आरिफ का परिवार इस मामले में आरोप लगा रहा है कि उसकी सेहत एकदम ठीक थी, फिर अचानक दिल का दौरा पड़ने से आरिफ की मौत कैसे हो सकती है? आरिफ बीते काफी समय से मुंबई की ऑर्थर रोड जेल में बंद था। वो पाकिस्तान में रह रहे दाउद इब्राहिम के खासमखास छोटा शकील के गुर्गे के तौर पर मुंबई में उसका काम संभालता था।

अगर मुंबई में छोटा शकील को कोई भी काम होता, तो वो सीधे आरिफ को फोन करता था। फ्री प्रेस जर्नल की रिपोर्ट के मुताबिक, शातिर किस्म का आरिफ बेहद खुफिया तरीके से उसके काम को अंजाम तक पहुंचा देता था। बताया जाता है कि दाउद इब्राहिम की डी कंपनी भले ही पहले की तरह मुंबई में जबरन वसूली का धंधा ना करती हो, लेकिन दूसरे जरियों से उसकी काली कमाई का इन्वेस्टमेंट होता है।

मेगा रियल एस्टेट प्रोजेक्ट और दूसरे कमर्शियल प्रोजेक्ट में दाउद का पैसा लगाते वक्त जब किसी जगह पर डराने-धमकाने या पावर की जरूरत पड़ती, तो मुंबई में आरिफ ही वो आदमी था, जिसे छोटा शकील ये काम सौंपता था। बीते दिनों इस बात का खुलासा हुआ था कि मुंबई मार्केट में साउथ की एक बड़ी रियल एस्टेट कंपनी की एंट्री के लिए आरिफ ने ही जमीन तैयार की थी। आरिफ और उसके भाई शब्बीर को मई 2023 में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गिरफ्तार किया था। इनके ऊपर दाउद इब्राहिम, छोटा शकील और उनके कुछ करीबियों के लिए आतंकी फंडिंग करने का आरोप था।

इसके साथ ही एनआईए ने आरिफ और उसके भाई पर लश्कर-ए-तैयबा जैसे पाकिस्तानी आतंकवादी संगठनों के साथ मिलकर काम करने का भी आरोप लगाया। वहीं, डी कंपनी से जुड़े होने के चलते कोर्ट ने भी आरिफ को जमानत देने से इंकार कर दिया था। आरिफ के अलावा मोहम्मद सलीम कुरैशी उर्फ सलीम फ्रूट पर भी आतंकी गतिविधियों के लिए कारोबारियों से जबरन पैसे वसूलने का आरोप है। सलीम फ्रूट दाउद की बहन हसीना पारकर का करीबी था। एनआई ने आरिफ सहित इन लोगों की गिरफ्तारी से डी कंपनी की कमर तोड़ने की कोशिश की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *