अपने राजनीतिक जीवन में पहला चुनाव हारे मोदी,7 राज्यों में नहीं खुला खाता

मुंबई- लोकसभा चुनाव के परिणाम आ चुके हैं। ‘अबकी बार, 400 पार’ का नारा देने वाली बीजेपी को इस चुनाव में बड़ा झटका लगा है। पार्टी अपने बूते बहुमत हासिल करने से चूक गई है। पिछले दो लोकसभा चुनाव के मुकाबले इस साल पार्टी का सबसे खराब रहा है।

पार्टी इस बार महज 240 पर सिमट गई है। वहीं, पिछले चुनाव में पार्टी ने अपने बूते 303 सीटें जीती थीं। हालांकि, एनडीए के अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर पार्टी एक बार फिर से केंद्र में सरकार बनाने की स्थिति में है। खास बात है कि देश के 7 राज्यों और 4 केंद्रशासित प्रदेश में पार्टी पूरी तरह से साफ हो गई है।

इस बार चुनाव में बीजेपी को सीटों के साथ ही वोट शेयर में भी झटका लगा है। पार्टी इस बार लगभग 240 सीट पर जीत हासिल करती नजर आ रही है। वहीं, पिछले चुनाव में पार्टी ने 303 सीटों पर जीत हासिल की थी। 2014 के चुनाव में पार्टी ने अपने बूते 282 सीट का आंकड़ा छुआ था। इस बार पार्टी को 36.61 फीसदी वोट मिले हैं। वहीं, साल 2019 में पार्टी का वोट शेयर 37. 69 था।

हालांकि, पार्टी ने साल 2014 में 31 फीसदी वोट हासिल किया था। कांग्रेस ने इस साल 21.26 फीसदी वोट हासिल किए हैं। जबकि पार्टी को पिछले आम चुनाव में 19.66 फीसदी वोट मिले थे। कांग्रेस ने पिछले चुनाव में 52 सीटें जीती थी। इस बार कांग्रेस करीब 100 सीट पर जीत हासिल करती नजर आ रही है।

पंजाब में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। पंजाब में पार्टी पूरी तरह से साफ हो गई है। पिछले चुनाव में पार्टी के दो सांसद थे। इस बार बीजेपी पंजाब में एक भी सीट जीतने में नाकामयाब रही है। पंजाब में बीजेपी का शिरोमणि अकाली दल से गठबंधन नहीं हो पाया था। इसका खामियाजा पार्टी को भुगतना पड़ा।

दक्षिण भारत के तमिलनाडु में पार्टी एक बार फिर खाता खोलने में नाकाम रही। पीएम मोदी के लगातार दौरे और चुनाव प्रचार का पार्टी को यहां फायदा नहीं मिला। राज्य की 39 सीटों में से पार्टी को एक भी सीट पर जीत नहीं मिली। मणिपुर की दो लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने कब्जा किया। बीजेपी यहां खाता खोलने में असफल रही। बीजेपी ने यहां 16.58 फीसदी वोट हासिल किए। सिक्किम में लोकसभा की एक सीट है। इस सीट पर सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा ने जीत हासिल की।

जिन राज्यों में भाजपा का खाता नहीं खुला है उसमें तमिलनाडु, पंजाब, सिक्किम, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड हैं। इनके अलावा केंद्रशासित प्रदेशों पुड्‌डूचेरी, चंडीगढ़, लद्दाख और लक्ष्यद्वीप हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *