गोदरेज प्रॉपर्टीज का 7,000 करोड़ का प्रोजेक्ट खतरे में, मंत्रालय ने रोका काम

मुंबई- गोदरेज प्रॉपर्टीज (Godrej Properties) का मुंबई में 7,000 करोड़ रुपये का रियल्टी प्रोजेक्ट खतरे में पड़ गया है। रक्षा मंत्रालय ने इस पर आपत्ति जताते हुए काम रोकने की मांग की है। मंत्रालय ने कहा है कि यह परियोजना केंद्रीय आयुध डिपो (COD) के कांदिवली परिसर के बहुत करीब है।

गोदरेज रिजर्व (Godjet Reserve) प्रोजेक्ट 18.6 एकड़ भूमि पर विकसित की जा रही है। कंपनी की FY24 नियामक फाइलिंग के अनुसार उसने पहले ही लगभग 1.91 मिलियन वर्ग फीट पर प्रोजेक्ट लॉन्च कर दिया है और उसे 1.51 मिलियन वर्ग फीट की बुकिंग के लिए 2,693 करोड़ रुपये मिल चुके हैं। डिफेंस मिनिस्ट्री की यूनिट ने प्रोजेक्ट के खिलाफ ‘काम रोकने का नोटिस’ मांग की है। उसने म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन ऑफ ग्रेटर मुंबई (MCGM) के बिल्डिंग प्रपोजल डिपार्टमेंट को एक नोट भेजकर कहा है कि गोदरेज का प्लॉट उसके कांदिवली परिसर के 500 मीटर के भीतर स्थित है।

इस बारे में गोदरेज प्रॉपर्टीज के प्रवक्ता ने कहा कि एक जिम्मेदार डेवलपर के रूप में, हमारी सभी परियोजनाएं संबंधित अधिकारियों से उचित और आवश्यक मंजूरी मिलने के बाद शुरू होती हैं। इस मामले में भी, संबंधित अधिकारियों और RERA (रियल एस्टेट विनियामक प्राधिकरण) से सभी अपेक्षित मंजूरियां ली गई हैं हमें किसी भी संबंधित अथॉरिटी से किसी भी नियम के उल्लंघन के बारे में कोई नोटिस नहीं मिला है।

सीओडी ने केंद्र सरकार के मई 2011 के दिशा-निर्देशों का हवाला देते हुए कहा है कि किसी भी रक्षा प्रतिष्ठान के 100 मीटर के भीतर निर्माण गतिविधि की अनुमति नहीं है। इसके अलावा, रक्षा मंत्रालय से अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) प्राप्त करने के बाद रक्षा प्रतिष्ठान के 100-500 मीटर के दायरे में अधिकतम चार मंजिल तक के निर्माण की अनुमति है।

गोदरेज प्रॉपर्टीज देश के अग्रणी रियल एस्टेट डेवलपर्स में से एक है। इसकी मुंबई महानगर क्षेत्र (एमएमआर), दिल्ली- राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, पुणे और बेंगलुरु संपत्ति बाजारों में उपस्थिति है। फाइनेंशियल ईयर 2023-24 में कंपनी की सालाना सेल सबसे बेहतर रही। पिछले फाइनेंशियल ईयर में कंपनी की सेल्स बुकिंग 84 फीसदी तेजी के साथ 22,527 करोड़ रुपये रही जो उससे पिछले साल 12,232 करोड़ रुपये थी।

गोदरेज प्रॉपर्टीज ने 2024-25 में 27,000 करोड़ रुपये की सेल्स बुकिंग का टारगेट रखा है। इस लक्ष्य को पाने के लिए कंपनी ने 21.9 मिलियन स्क्वायर फीट एरिया लॉन्च करने का प्लान रखा है। इसकी अनुमानित सेल्स बुकिंग वैल्यू 30,000 करोड़ रुपये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *