सेंसेक्स 1,197 अंक बढ़कर रिकॉर्ड 75,418 पर, मार्केट कैप 420 लाख करोड़

मुंबई- आरबीआई की केंद्र सरकार को 2.11 लाख करोड़ रुपये का लाभांश देने की मंजूरी के बाद शेयर बाजार में जमकर तेजी रही। बैंकिंग, ऑटो और तेल शेयरों में भारी खरीदारी से बीएसई सेंसेक्स 1,196.98 अंक या 1.61 फीसदी बढ़कर पहली बार 75,418.04 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी भी 369.85 अंक या 1.64 फीसदी की तेजी के साथ पहली बार 22,967.65 पर बंद हुआ। यह दिन में 22,993.60 का ऊपरी और 22,557 का निचला स्तर बनाया। इसके 50 शेयरों में से 44 बढ़त में और 6 गिरावट में रहे।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज यानी बीएसई सेंसेक्स ने बृहस्पतिवार को दिन में 75,499 का ऊपरी और 74,158 का निचला स्तर बनाया। इसके 30 में से 27 शेयर बढ़त में और तीन गिरावट में रहे। बढ़ने वाले प्रमुख शेयरों में महिंद्रा एंड महिंद्रा, लार्सन एंड टुब्रो, एक्सिस बैंक, मारुति, अल्ट्राटेक, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी बैंक और आईसीआईसीआई बैंक रहे। गिरने वालों में एनटीपीसी, सनफार्मा और पावरग्रिड रहे।

बीएसई के 3,945 शेयरों में कारोबार हुआ। 1,818 तेजी में, 2,008 गिरावट में रहे। 282 अपर सर्किट और 252 लोअर सर्किट में रहे। बाजार की तेजी से कंपनियों की पूंजी 4.28 लाख करोड़ बढ़कर रिकॉर्ड 420.22 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गई। बुधवार को यह 415.94 लाख करोड़ थी।

पिछले 10 कारोबारी सत्रों में बीएसई पर सूचीबद्ध कंपनियों की पूंजी 27 लाख करोड़ रुपये बढ़ी है। 9 मई को यह 393 लाख करोड़ रुपये थी जो अब 420 लाख करोड़ रुपये हो गई है। बाजार की तेजी के बावजूद विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली जारी है। इस महीने में अब तक इन निवेशकों ने भारतीय शेयर बाजार में 27,938 करोड़ रुपये के शेयर बेचे हैं। ये अब डेट में निवेश कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसी हफ्ते एक साक्षात्कार में कहा था कि 4 जून को चुनाव परिणाम के बाद शेयर बाजार एक हफ्ते तक रिकॉर्ड तेजी में रहेगा। लेकिन उससे पहले ही बाजार ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। निफ्टी में और तेजी आगे देखने को मिल सकती है। बहुत जल्द 23,000 को पार कर जाएगा। चुनाव परिणाम के करीब आने पर यह 24,000 तक जा सकता है। जहां लार्ज कैप शेयरों के अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। मिड कैप और स्मॉलकैप में गिरावट आ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *