एअर इंडिया पायलटों की 15,000 रुपये तक बढ़ा दी सैलरी, मिलेगा बोनस भी

मुंबई- टाटा ग्रुप की एअर इंडिया ने 23 मई को पायलटों के लिए 1 अप्रैल से 15,000 रुपए तक के सैलरी हाइक और 1.8 लाख रुपए तक के एनुअल परफॉर्मेंस बोनस का ऐलान किया है। कंपनी ने ऑफिशियल जारी कर इस बात की घोषणा की है।

कंपनी के स्टेटमेंट के अनुसार, एयरलाइन ने फर्स्ट ऑफिसर से सीनियर कमांडर तक प्रति माह फिक्स्ड पे में 5,000 रुपए से 15,000 रुपए के बीच सैलरी में बढ़ोतरी की है। इस अप्रेजल सीजन में जूनियर फर्स्ट ऑफिसर्स के लिए कोई सैलरी हाइक नहीं किया गया है।

हालांकि, एअर इंडिया ने जूनियर फर्स्ट ऑफिसर (JFOs) से लेकर सीनियर कमांडर तक के लिए प्रति वर्ष 42,000 रुपए से 1.8 लाख रुपए के बोनस की घोषणा भी की है। फर्स्ट ऑफिसर और कैप्टन को 60,000 रुपए एनुअल बोनस मिलेगा।

कमांडर को ₹1.32 लाख और सीनियर कमांडर को ₹1.80 लाख बोनस मिलेगा
वहीं कमांडर को 1.32 लाख रुपए और सीनियर कमांडर को 1.80 लाख रुपए बोनस मिलेगा। एयरलाइन ने उन पायलटों के लिए मुआवजे की भी घोषणा की है, जिन्हें अपने ग्राउंड और सिम्युलेटर ट्रेनिंग में इन-ऑर्डिनेटेड डीले यानी अत्यधिक देरी का सामना करना पड़ा है।

एअर इंडिया ने कहा, ‘जिन पायलटों ने अप्रैल 2023 से मार्च 2024 तक कमांड अपग्रेड और कन्वर्जन ट्रेनिंग ली थी और जिनकी ट्रेनिंग में जस्टिफिएबल ऑर्गेनाइजेशनल रीजन से देरी हुई थी। उन्हें 40 घंटे की फ्लाइंग की गारंटी से परे ट्रेनिंग में बिताए गए समय के लिए अतिरिक्त मुआवजा दिया जाएगा। इन पायलटों को व्यक्तिगत रूप से सूचित किया जाएगा और पेआउट जून के फ्लाइंग अलाउंस के साथ किया जाएगा।’

एक दिन पहले एअर इंडिया एक्सप्रेस यूनियन ने फ्लाइट डिले और कैंसिलेशंस के बारे में चिंता व्यक्त की थी। इस पर यूनियन ने कहा था कि डिपार्चर की कम संख्या से केबिन क्रू की सैलरी पर प्रभाव पड़ रहा है। दो महीनों से 100 से ज्यादा केबिन क्रू बिना फ्लाइंग ड्यूटीज के बेकार बैठे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *