होटल, रेस्तरां और पर्यटन क्षेत्र में मिलेंगी दो लाख नौकरियां, भर्तियों में तेजी

मुंबई- कोरोना के दौरान नौकरियों में भारी छंटने करने वाले होटल उद्योग ने आक्रामक भर्तियों की तैयारी की है। अगले 12-18 महीने में होटल, रेस्तरां और पर्यटन क्षेत्र में दो लाख रोजगार मिलने की उम्मीद है। टीमलीज के मुताबिक, एक लाख नौकरियां अकेले होटल क्षेत्र में पैदा होंगी।

दरअसल, होटलों विस्तार करने के साथ खाली पदों को भर रहे हैं। व्यवसाय और अवकाश यात्रा में मजबूत वृद्धि के बीच नए बाजारों में जा रहे हैं। जिन नौकरियों के लिए होटल भर्ती कर रहे हैं उनमें स्थायी, अस्थायी और दिहाड़ी शामिल हैं।

रॉयल आर्किड की इस साल 2,000 कमरे जोड़ने की योजना है। इससे 5,00 लोगों को नौकरियां मिलेंगी। होटल के 30-35 फीसदी तक कर्मचारी नौकरी छोड़ जाते हैं। फॉर्च्यून होटल 8-10 फीसदी तक भर्ती करने की योजना बना रहा है। इसके 56 शहरों में 5,000 कमरे हैं। लेमनट्री होटल 2000 रूम जोड़ने की योजना बना रहा है। यह 3,000-4,000 नौकरियां देगा।

भारत में वार्षिक घरेलू पर्यटकों की संख्या एक से दो वर्षों में एक करोड़ बढ़ने की उम्मीद है। इससे होटलों को सीधे फायदा होगा। होटल उद्योग कोरोना महामारी से उबर गया है। इससे होटल के कमरों की मांग सार्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गई है।

छोटे और मध्यम होटलों में 35 फीसदी तक लोग छोड़ रहे नौकरी। अगले 5-6 साल में विदेशी पर्यटकों की संख्या तीन गुना होने की उम्मीद है। भारत में सालाना 18-20 करोड़ पर्यटकों की संख्या होने से होटलों की जरूरतें बढ़ गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *