तीन करोड़ रुपये के मालिक हैं नरेंद्र मोदी, एसबीआई में ढाई करोड़ का एफडी

मुंबई- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) उत्तर प्रदेश की वाराणसी सीट से तीसरी बार लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। मंगलवार को उन्होंने इसके लिए अपना नामांकन दाखिल किया। इस दौरान जमा किए गए हलफनामे में उन्होंने अपनी संपत्ति का पूरा लेखा जोखा दिया है।

मोदी के चुनावी हलफनामे के मुताबिक वह निवेश के पारंपरिक तरीकों में यकीन करते हैं। उन्होंने एफडी और डाकघर योजनाओं में निवेश किया है। उनकी चल संपत्ति 3.02 करोड़ रुपये है और उनके पास केवल 52,920 रुपये कैश है। पीएम के पास अपना खुद का कोई मकान नहीं है। साथ ही उनके पास कोई गाड़ी भी नहीं है।

चुनावी हलफनामे के मुताबिक 2018-19 में प्रधानमंत्री की टैक्सेबल इनकम 11 लाख रुपये थी जो 2022-23 में बढ़कर 23.5 लाख रुपये हो गई। मोदी ने बैंक डिपॉजिट और नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC) में निवेश किया है। उनके पास एसबीआई में 2.85 करोड़ की एफडी है। साथ ही उनका NSC में 9.12 लाख रुपये का निवेश है। NSC एक डाकघर योजना है। इसमें सालाना 7.7 फीसदी ब्याज के साथ आईटी कानून की धारा 80सी के तहत टैक्स बेनिफिट मिलता है। इसमें पांच साल का लॉक-इन पीरियड होता है और इसमें शुरुआती निवेश 1,000 रुपये है।

एफडी और एनएससी में मोदी का निवेश करीब तीन करोड़ रुपये है। हलफनामे के मुताबिक पीएम मोदी के पास सोने की चार अंगूठियां हैं जिनकी कीमत 2,67,750 रुपये है। हलफनामे के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आय का मुख्य जरिया सरकार से मिलने वाला वेतन और सेविंग्स पर मिलने वाला ब्याज है।

फाइनेंशियल ईयर 2023-24 में उन्होंने 3 लाख 33 हजार 179 रुपये का इनकम टैक्स भरा। गुजरात के गांधीनगर के स्टेट बैंक के अकाउंट में पीएम मोदी के पास 73 हजार 304 रुपये डिपॉजिट है। वहीं वाराणसी के बैंक अकाउंट में कुल 7,000 रुपये जमा हैं। इस हलफनामे में पीएम मोदी ने अपने पिछले पांच साल की इनकम का भी लेखाजोखा दिया है।

साल 2018-19 में उनकी आय 11,14,230 रुपये, 2019-20 में 17,20,760 रुपये, 2020-21 में 17,07,930 रुपये, 2021-22 में 15,41,870 रुपये और 2022-23 में 23,56,080 रुपये रही। पीएम मोदी ने शेयर मार्केट और म्यूचुअल फंड में कोई इंवेस्टमेंट नहीं किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *