जोमैटो के शेयर में 10 हजार रुपये का निवेश बन सकता है 14,000 रुपये

मुंबई- वित्त वर्ष 2023-24 के चौथी तिमाही के नतीजदे घोषित किए जाने के बाद मॉर्गन स्टैनली (Morgan Stanley) और एलारा कैपिटल (Elara Capital) ने फूड एग्रीगेटर और क्वीस कॉमर्स कंपनी जोमैटो के स्टॉक के टारगेट प्राइस को बढ़ा दिया है। एलारा कैपिटल और मॉर्गन स्टैनली दोनों ही निवेशकों को शानदार रिटर्न के लिए जोमैटो के स्टॉक को खरीदने की सलाह दी है। एलारा कैपिटल ने कहा है कि कंपनी का शेयर मौजूदा लेवल से निवेशकों को 44 फीसदी का रिटर्न दे सकती है।

मॉर्गन स्टैनली और एलारा कैपिटल दोनों ही ने जोमैटो को लेकर अपना रिसर्च रिपोर्ट जारी किया है। मॉर्गन स्टैनली ने कहा कि फूड डिलिवरी में मार्केट स्ट्रक्चर के अपने पक्ष में होने, क्वीक कॉमर्स बिजनेस ( Quick Commerce business) के तेजी के साथ बढ़ने और मजबूत बैलेंसशीट के चलते जोमैटो महत्वपूर्ण बना हुआ है।

रिसर्च रिपोर्ट में मॉर्गन स्टैनली ने कहा हाल ही में किए गए निवेश के चलते 2024-24 में मुनाफा घट सकता है लेकिन मध्यम अवधि में कंपनी मजबूत मार्जिन डिलिवर करेगी। रिसर्च रिपोर्ट के मुताबिक जोमैटो ने कहा है कि क्वीस कॉमर्स बिजनेस अगले कुछ तिमाही में ब्रेक-ईवन के निकट है यानि मुनाफे में आने की तैयारी में है।

रिपोर्ट में कहा गया कि जोमैटो का स्टॉक महंगा है लेकिन मजबूत ग्रोथ आउटलुक और बेहतर एग्जीक्यूशन सपोर्ट प्रीमियम मल्टीपल्स के चलते स्टॉक रेस्टोरेंट इंडस्ट्री की दूसरी कंपनियों और दूसरी लिस्टेड इंटरनेट कंपनियों के मुकाबले सस्ता है। मार्गन स्टैनली ने 235 रुपये के टारगेट के लिए निवेशकों को जोमैटो का स्टॉक खरीदने की सलाह दी है जो कि मौजूदा प्राइस लेवल से 21 फीसदी ज्यादा है।

एलापा कैपिटल ने भी नतीजों के बाद जोमैटो के स्टॉक प्राइस के टारगेट को बढ़ाकर 285 रुपये कर दिया है जो कि स्टॉक के मौजूदा लेवल से 44 फीसदी ज्यादा है। अपने रिसर्च रिपोर्ट में एलारा कैपिटल ने कहा कि ESOP चार्ज रंग में भंग डाल सकता है. लेकिन फूड बिजनेस मजबूत ग्रोथ दिखा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *