धोनी बेचेंगे इलेक्ट्रिक साइकल, पुणे प्लांट में किया निवेश, अगस्त से निर्माण

मुंबई- क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी समर्थित इलेक्ट्रिक व्हीकल कंपनी ईमोटोराड साउथ एशिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक साइकिल मैन्युफैक्चरिंग प्लांट बना रही है। यह प्लांट पुणे के रावेत में 2.40 लाख वर्ग मीटर में फैला है। इसका पहला फेज जल्द पूरा हो जाएगा और 15 अगस्त से इसमें मैन्युफैक्चरिंग शुरू हो जाएगी।

कंपनी के मुताबिक, पूरी तरह ऑपरेशनल होने पर यहां से सालाना 5 लाख से ज्यादा साइकिलों का प्रोडक्शन होगा। कंपनी के इस गिगाफैक्ट्री में बैटरी, मोटर, डिस्प्ले और चार्जर सहित इलेक्ट्रिक व्हीकल में इस्तेमाल होने वाले लगभग सभी कॉम्पोनेंट्स का उत्पादन होगा।

नई फैसिलिटी से कंपनी अपने प्रोडक्ट रेंज को भी बढ़ाएगी। इसमें नई इलेक्ट्रिक साइकिल भी शामिल होगी। इस फर्म में क्षमता बढ़ाने के लिए कंपनी 300 नए लोगों की भर्ती करेगी। अभी इस फैक्ट्री में 250 लोग काम कर रहे हैं। मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी का कंस्ट्रक्शन चार फेज में पूरा होगा। इसके पूरा हो जाने के बाद किसी एक लोकेशन पर बनी साउथ एशिया की यह सबसे बड़ी फैक्ट्री होगी। कंपनी इनोवेटिव प्रोडक्ट बनाने के अलावा पुराने प्रोडक्ट्स में जरूरी ट्रांसफॉर्मेशन करके नए सिरे से लॉन्च करेगी।

ईमोटोराड ​​​​​4.0 स्टैंडर्ड पर भी फोकस कर रही है। इसके तहत मैन्युफैक्चरिंग के स्मार्ट और मॉडर्न तरीकों को अपनाने के साथ-साथ टेक्निकली एडवांस प्रोडक्ट की मैन्युफैक्चरिंग की जाती है। इसके अलावा, ईमोटराड इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की एक सीरीज भी पेश करने की तैयारी कर रही है, जो सभी अपग्रेडेड जेन-2 प्लेटफॉर्म्स पर बने होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *