एक साल में इस शेयर ने 10 हजार रुपये को बनाया 1.68 लाख, ये है भाव

मुंबई- इस स्टील कंपनी के शेयर में निवेशकों को सिर्फ एक साल में ही करीब 1,600 फीसदी का रिटर्न मिला है। जिस शेयर की चर्चा हो रही है, उसका नाम जय बालाजी इंडस्ट्रीज है। 30 अप्रैल तक इस कंपनी का बाजार पूंजीकरण 16,819.16 करोड़ रुपये था। यह एसएंडपी बीएसई स्मॉलकैप का हिस्सा है।

इस शेयर ने शानदार बढ़ोतरी दर्ज की है। 2 मई 2023 से 1,583.5 फीसदी बढ़कर यह शेयर 61.05 रुपये से 1,027.75 रुपये हो गया है। यानी अगर किसी व्यक्ति ने पिछले साल इस शेयर में 10,000 रुपये का निवेश किया था तो वर्तमान में इसका मूल्य 1.68 लाख रुपये होगा।

जुलाई 2023 में स्टॉक में तेजी आनी शुरू हुई। फरवरी 2024 तक आठ महीनों तक इसमें लगातार बढ़ोतरी जारी रही। हाल ही में शेयर कंसोलिडेट हुआ है। हालांकि, 27 फरवरी, 2024 को बीएसई पर अपने 52-सप्ताह के ऊंचे स्तर 1,307 रुपये से यह शेयर 21 फीसदी से ज्‍यादा फिसला है। लंबी अवधि में देखा जाए तो इस शेयर ने पिछले पांच सालों में 3,215 फीसदी और पिछले 10 सालों में 6,155 फीसदी का रिटर्न दिया है।

जय बालाजी इंडस्ट्रीज का मुख्‍यालय कोलकाता में है। यह 1999 से काम कर रही है। कंपनी स्पंज आयरन, पिग आयरन और टीएमटी बार (बालाजी शक्ति के रूप में मार्केटिंग) जैसे अलग-अलग आयरन और स्‍टील उत्पादों के उत्पादन और वितरण में माहिर है। इसके अलावा कंपनी अपने उत्पादों को दुनिया भर में निर्यात करती है। 31 मार्च 2024 तक कंपनी में प्रमोटरों के पास ज्‍यादातर 60.80 फीसदी शेयर थे। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों के पास 3.05 फीसदी, घरेलू संस्थागत निवेशकों के पास 0.07 फीसदी और गैर-संस्थागत शेयरधारकों के पास 36.07 फीसदी हिस्‍सेदारी थी।

जय बालाजी इंडस्ट्रीज ने 25 अप्रैल, 2024 को चौथी तिमाही के नतीजों की घोषणा की थी। कंपनी का राजस्व साल-दर-साल 7.05 फीसदी बढ़कर 1,845.60 करोड़ रुपये हो गया। जबकि पिछले वर्ष की इसी तिमाही (Q4 FY23) में यह 1,724.01 करोड़ रुपये था। प्रॉफिट आफ्टर टैक्‍स (पीएटी) में काफी सुधार दर्ज किया गया। इसमें 13.08 करोड़ रुपये के नुकसान की तुलना में 272.98 करोड़ रुपये का फायदा हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *