इंडियन ऑयल का मुनाफा चौथी तिमाही में 49 पर्सेंट घटा, 5,488 करोड़ रुपये

मुंबई- इंडियन ऑयल का मुनाफा पिछले साल की तुलना में 49% घट गया है। वित्त वर्ष 2023-24 की चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च) में कंपनी ने 5,487.92 करोड़ रुपए का कंसोलिडेटेड मुनाफा दर्ज किया। पिछले साल की इसी तिमाही में मुनाफा 10,841.23 करोड़ रुपए था।

पिछली तिमाही यानी अक्टूबर-दिसंबर के तीन महीनों की तुलना में इंडियन ऑयल का मुनाफा 42.97% घटा है। अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में कंपनी ने 9,224.85 करोड़ रुपए का मुनाफा कमाया था। इंडियन ऑयल के बोर्ड ने प्रति शेयर 7 रुपए के डिविडेंड (लाभांश) को भी मंजूरी दी है। कंपनियां अपने शेयरधारकों को मुनाफे का कुछ हिस्सा देती हैं, उसे डिविडेंड कहते हैं।

कंपनी का रिफाइनिंग मार्जिन कम होने से मुनाफा कम हुआ है। 2024 के पहले तीन महीनों में क्रूड ऑयल के दाम 16% बढ़े हैं। महंगे क्रूड के बावजूद कंपनी ने पेट्रोल-डीजल की कीमतें 2 रुपए घटाई थी। पूरे वित्त वर्ष में कंपनी के कंसोलिडेटेड मुनाफे में 269% की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। FY24 में कंपनी का कंसोलिडेटेड मुनाफा 43,161.15 करोड़ रुपए रहा है। पिछले वित्त वर्ष में मुनाफा 11,704.26 करोड़ रुपए रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *