चालू सीजन में सरकार ने खरीदे 45,000 करोड़ रुपये में 196 लाख टन गेहूं

मुंबई- सरकार ने चालू सीजन के दौरान अब तक 196 लाख टन गेहूं की खरीदी की है। पिछले वर्ष की समान अवधि के 219.5 लाख टन के मुकाबले इस बार गेहूं की सरकारी खरीद 11 प्रतिशत कम रही है। विभिन्न राज्यों के 16 लाख किसानों को खरीदी के एवज में न्यूनतम समर्थन मूल्य 2,275 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से 45,000 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है।

पिछले वर्ष सरकार ने 261.97 टन गेहूं की खरीदारी की थी। कृषि मंत्रालय ने चालू वर्ष के दौरान देश में 1,120.19 लाख टन गेहूं उत्पादन का अनुमान जताया है। पिछले वर्ष 1,105.54 लाख टन गेहूं उत्पादन हुआ था। सरकार ने चालू सीजन में 310-320 लाख टन गेहूं की खरीदी का लक्ष्य रखा है। भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए प्रयास कर रही है।

एफसीआई के चेयरमैन अशोक मीणा ने कहा, हम खरीद लक्ष्यों को प्राप्त करने की सही दिशा में है। पंजाब और हरियाणा से आवक अच्छी है। इन दोनों राज्यों से 200 लाख टन गेहूं की खरीदी की जाएगी। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेएवाई) और अन्य कल्याणकारी योजनाओं की वार्षिक जरूरत 186 लाख टन है।

एफसीआई मई से पहले उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश जैसे कुछ राज्यों में खरीदी बढ़ा सकता है, क्योंकि उसे मंडियों में फसलों के देर से आने की उम्मीद है। कीमतों को नियंत्रित करने के लिए जरूरत पड़ने पर ओपन मार्केट सेल स्कीम लॉन्च करने के लिए स्टॉक रखने की योजना है। पिछले साल इस योजना के तहत 100 लाख टन से अधिक गेहूं आटा मिलों और अन्य गेहूं आधारित उद्योगों को भेजा गया था। एक सरकारी अधिकारी ने कहा, मध्य प्रदेश में खरीद चिंता का विषय है, लेकिन हमें उम्मीद है कि इसमें तेजी आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *