10 लाख करोड़ रुपये राजस्व हासिल करने वाली रिलायंस पहली भारतीय कंपनी

मुंबई- शेयर बाजार में सूचीबद्ध सबसे मूल्यवान कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज 10 लाख करोड़ रुपये का राजस्व हासिल करने वाली पहली भारतीय कंपनी बन गई है। वित्त वर्ष 2023-24 में इसका राजस्व 9.74 लाख करोड़ से 2.6 फीसदी बढ़कर 1,000,122 करोड़ रहा है। पूरे वित्त वर्ष में मुनाफा भी रिकॉर्ड 69,621 करोड़ रहा है।

कंपनी ने सोमवार को बताया कि तिमाही मुनाफा मामूली गिरकर 18,951 करोड़ रहा है। राजस्व 11 फीसदी बढ़कर 2.64 लाख करोड़ रहा है। कंपनी ने कहा, तेल और पेट्रोकेमिकल कारोबार में सुधार और दूरसंचार से लेकर खुदरा कारोबार में मजबूती रही है। कंपनी ने 10 रुपये प्रति शेयर लाभांश देने की घोषणा की है।

रिलायंस ने पूरे वित्त वर्ष में 1.32 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया है। इसका कर्ज मामूली कम होकर 1.16 लाख करोड़ रुपये रहा है। रिलायंस रिटेल का राजस्व 3 लाख करोड़ रुपये रहा है।

रिलायंस जियो को मार्च तिमाही में 5,337 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। एक साल पहले की तुलना में 13 फीसदी अधिक है। राजस्व 25,959 करोड़ रुपये रहा है। पूरे वित्त वर्ष में 20,466 करोड़ लाभ रहा है। इस दौरान 4.24 करोड़ नए ग्राहक जोड़े हैं। कंपनी की प्रति ग्राहक कमाई 181.7 रुपये रही है

वहीं रिलायंस रिटेल का ऑपरेशंस से चौथी तिमाही में रेवेन्यू 76,683 करोड़ रुपए हो गया। पिछले फाइनेंशियल ईयर की इसी अवधि में ये 69,288 करोड़ रुपए रहा था। वहीं पिछली तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 83,040 करोड़ रुपए रहा था। कंपनी का ऑपरेटिंग प्रॉफिट (EBITDA) मार्च तिमाही में 5,829 करोड़ रुपए रहा। यह इसके ठीक पिछली तिमाही में 6,271 करोड़ रुपए रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *