लगातार मोबाइल देख रहे 16 साल के युवक का दिल का दौरा पड़ने से मौत

मुंबई- उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले के सैदनगली थाना क्षेत्र के ढक्का गांव में मोबाइल पर करीब 45 मिनट से लगातार वीडियो देख रहे 11वीं के छात्र अमन (16) की मौत हो गई। बेड पर लेट कर वीडियो देख रहे छात्र के पास ही पिता भी बैठे थे। बेसुध हुए छात्र के हाथ से मोबाइल छूट कर जमीन पर गिर गया। पिता उसे लेकर अस्पताल पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने मृत बता दिया। डॉक्टरों ने शुरुआती जांच में मौत का कारण हार्ट अटैक बताया है।

अमरोहा के गांव ढक्का गांव से पुलिस को मिली जानकारी के मुताबिक, गांव के दिलशाद कुरैशी अपनी पत्नी मुमताज और चार बेटियों और दो बेटे के साथ रहते हैं। हादसे का शिकार अमन (16) दूसरे नंबर का बेटा था। पिता दिलशाद के मुताबिक, रविवार शाम करीब 4 बजे के करीब अमन मेरे मोबाइल पर कमरे में बेड पर बैठकर वीडियो देखने लगा। मैं और पत्नी कमरे में ही मौजूद थे।

करीब 45 मिनट के बाद अमन मोबाइल देखते हिए अचानक बेड पर लुढ़क गया। मोबाइल हाथ छूट कर जमीन पर गिर गया। जाकर देखा तो शरीर में अकड़न दिखी। बच्चे को लेकर एक निजी डॉक्टर के पास ले गए। डॉक्टर ने बेटे को मृत बता दिया, लेकिन जिंदगी की आस में संभल के एक निजी अस्पताल ले गए। वहां भी डॉक्टर ने मौत होने की बात कही और मौत का कारण हार्ट अटैक बताया।

पिता दिलशाद कुरैशी ने कहा कि बेटा बिल्कुल स्वस्थ था। बीमार भी कम ही होता था। कभी कोई दिल को लेकर परेशानी नहीं हुई। अब हार्ट अटैक कैसे आ गया समझ नहीं आ रहा। रात ही पिता दिलशाद कुरैशी शव को बिना पोस्टमॉर्टम कराए घर ले गए। सोमवार सुबह शव को गांव में सुपुर्द-ए-खाक किया गया।

हसनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉक्टर ध्रुवेंद्र का इस बारे में कहना है कि परिजनों के मुताबिक जिस तरह से मोबाइल देखते समय छात्र की अचानक मौत हुई है। इससे लक्षण हार्ट अटैक के ही हैं, लेकिन पोस्टमॉर्टम नहीं होने का कारण आधिकारिक नहीं कहा जा सकेगा। डॉक्टरों की मानें तो ज्यादा मोबाइल देखने से हार्ट बीट में अचानक बड़ा बदलाव होने की आशंका रहती है। जिसके कारण वेंट्रीकुलर टैकीकार्डिया भी हो जाता है। ऐसे मरीज को समय रहते इलाज नहीं मिलने पर मौत हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *