सोना और शेयर में इस साल भी मिल सकता है बेहतर फायदा, जानिए कैसे

मुंबई- सोना और शेयर पिछले कुछ वर्षों से बेहतर रिटर्न दे रहे हैं। पिछले कैलेंडर और वित्त वर्ष में इन दोनों ने 15 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न दिया है। वैश्विक स्तर पर देशों के बीच तनाव और मजबूत वृद्धि के बल पर यह दोनों संपत्तियां इस साल भी अच्छा फायदा दे सकती हैं।

इस साल भी कई देशों के बीच तनाव की स्थिति बनी रह सकती है। पिछले साल इस्रायल-फिलिस्तीन, रूस-यूक्रेन के साथ कई अन्य देशों के बीच तनाव बना था। इस साल इस्रायल-ईरान और सीरिया के बीच युद्ध की स्थिति है। ऐसे में सोना निवेश का बेहतर साधन साबित हो सकता है। विशेषज्ञ कहते हैं कि जब भी तनाव की स्थिति होती है तो सोना निवेश का प्रमुख साधन होता है। यही कारण है कि पिछले साल सोने ने 15 फीसदी का रिटर्न दिया है। विश्लेषकों का मानना है कि इस साल भी सोना इसी दायरे में फायदा दे सकता है। 70,000 रुपये प्रति दस ग्राम के भाव पर पहुंची यह बहुमूल्य धातु इस साल 80,000 रुपये को पार कर सकती है। ऐसे में निवेश का यह एक बेहतरीन साधन हो सकता है।

विश्लेषकों के मुताबिक, अगर आप 100 रुपये का निवेश करना चाहते हैं तो शेयर में 80-90 रुपये और सोने में 10-20 रुपये का निवेश कर सकते हैं। हालांकि, आपका निवेश 5-10 साल के लंबे समय के लिए होना चाहिए। लंबे समय में सोने ने बढि़या प्रदर्शन किया है। साथ ही आप कुछ निवेश डेट साधनों में भी कर सकते हैं। कोटक अल्टरनेट एसेट मैनेजर्स की निवेश एवं रणनीति की सीईओ लक्ष्मी अय्यर कहती हैं कि पोर्टफोलियो में वित्तीय परिसंपत्तियों के लिए एक सराहनीय रणनीति के रूप में सोना जरूरी है। सोने पर नजरिया सकारात्मक बना हुआ है। कुल निवेश में कम से कम 10 फीसदी सोना होना चाहिए। यह तब काम आता है जब जोखिम वाली संपत्तियां अच्छा प्रदर्शन नहीं करती हैं।

पिछले वर्ष निफ्टी ने लगभग 30% का रिटर्न दिया है। सोने ने लगभग 15% का रिटर्न दिया है। दुनिया भर में जोखिम देखा गया है। इससे इक्विटी और सोने ने अच्छा रिटर्न दिया। हालांकि, इस वर्ष दोनों संपत्तियों के बीच रिटर्न समान हो सकता है। भारत में शेयर बाजार इस साल भी 15 फीसदी तक रिटर्न देने में कामयाब हो सकता है। ऐसी उम्मीद है कि सेंसेक्स साल के अंत तक 80,000 को छू सकता है। इस समय 74,000 पर चल रहे सेंसेक्स में भी 10-12 फीसदी का रिटर्न मिलना संभव है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *