केंद्र सरकार की इस योजना में यूपी की बेटियों को मिलता है 50,000 रुपये

मुंबई- केंद्र सरकार और राज्य सरकार देश की बेटियों के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही है, जिससे उन्हें सामाजिक और आर्थिक सुरक्षा दी जा सके। चाहे वह बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ योजना हो या फिर सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) हो, इन सभी योजनाओं से सरकार देश की बेटियों का भविष्य सुरक्षित करने पर जोर दे रही है।

इसी तरह की एक योजना सीएम योगी के राज्य में भी चलाई जा रही है, जिसका उद्देश्य भ्रूण हत्या को रोकना और लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देना है। उत्तर प्रदेश में बेटियों के लिए भाग्य लक्ष्मी योजना (Bhagya Laxmi Yojana) चल रही है। इस स्कीम के तहत बेटी के जन्म होने पर सरकार की तरफ से 50,000 रुपये का बॉन्ड मिलता है।

Bhagya Laxmi Yojana का लाभ BPL या गरीबी रेखा से नीचे के परिवार उठा सकते हैं। सरकार का मकसद गरीबी रेखा से नीचे के परिवार और समाज में बेटियों की स्थिति को सुधारना है। इसके अलावा, बेटी के माता-पिता को आर्थिक मदद देना भी है।

भाग्य लक्ष्मी योजना के तहत जिस परिवार में बेटी का जन्म होगा उसे 50,000 रुपये का बॉन्ड दिया जाएगा। बता दें कि इस बॉन्ड की वैल्यू लड़की की 21 साल की उम्र होने पर 2 लाख रुपये हो जाएगी। बच्ची के जन्म के समय मां को 5,100 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाती है।

यूपी सरकार राज्य में भ्रूण हत्या पर रोक, बच्ची की पढ़ाई के लिए ये रकम देती है। ये रकम सीधे बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाती है। ध्यान देने वाली बात है कि इस योजना का लाभ केवल एक ही परिवार की दो बेटियों के लिए ही है। दो से ज्यादा बेटियों के होने पर परिवार इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते।

सबसे पहले लाभार्थी को उत्तर प्रदेश का निवासी होना अनिवार्य है। साथ ही बेटी का बर्थ सार्टिफिकेट, माता-पिता और बेटी का आधार कार्ड, राशन कार्ड, इनकम सार्टिफिकेट, जाति प्रमाण पत्र,घर का पता, बैंक खाता पासबुक, मोबाइल नंबर और पासपोर्ट साइज फोटो जैसे डॉक्यूमेंट्स होना अनिवार्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *