एचडीएफसी बैंक की कुल उधारी 25 लाख करोड़ रुपये,55 फीसदी की बढ़ोतरी

मुंबई- भारत के सबसे बड़े प्राइवेट बैंक एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) के ग्रॉस एडवांस (Gross Advance) में सालाना आधार पर 55 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। वित्त वर्ष 2023-24 की चौथी तिमाही यानी जनवरी-मार्च में बैंक का ग्रॉस एडवांस 25.08 लाख करोड़ रुपये हो गया है, जबकि पिछले साल की समान अवधि में 16.14 लाख करोड़ रुपये था।

गौरतलब है कि पिछले साल 1 जुलाई 2023 को ही HDFC Ltd का HDFC Bank के साथ मर्जर हुआ था। तिमाही आधार पर देखा जाए तो पिछली तिमाही (Q3FY24) के मुकाबले वित्त वर्ष 24 की चौथी तिमाही (Q4 FY24) में बैंक के एडवांस में 1.6 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। चालू वित्त वर्ष की दिसंबर तिमाही में बैंक के पास -24.69 लाख करोड़ रुपये का एडवांस था।

बैंक के बिजनेस को अलग-अलग भागों में बांटकर एडवांस का आंकड़ा देखा जाए तो इसका रिटेल लोन एक साल में करीब 108.9 फीसदी बढ़ गया है जबकि पिछली तिमाही के मुकाबले इसमें 3.7 फीसदी की बढ़त हुई है। इस बीच, कमर्शियल और ग्रामीण बैंकिंग लोन (commercial and rural banking loans) एक साल में 24.6 फीसदी बढ़ा है। पिछली तिमाही के मुकाबले इसमें 4.2 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है।

बैंक की तरफ से दिए गए कॉरपोरेट और होलसेल लोन में 31 मार्च 2023 से लेकर वित्त वर्ष 24 के अंत तक यानी एक साल में 4.1 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली। हालांकि तिमाही आधार पर (QoQ) इस सेगमेंट में 2.2 फीसदी की गिरावट आ गई।

31 मार्च 2024 तक के आंकड़ों के मुताबिक, बैंक जमा (डिपॉजिट) बढ़कर -33.80 लाख करोड़ रुपये हो गया। 31 मार्च 2023 तक के 18..83 लाख करोड़ रुपये के मुकाबले इसमें 26.4 फीसदी की बढ़ोतरी आई है।

चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही (Q4FY24) में बैंक का रिटेल डिपॉजिट एक साल पहले के मुकाबले 27.8 फीसदी बढ़ गया है। तिमाही आधार पर भी दिसंबर तिमाही के मुकाबले इसमें 6.9 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है। HDFC Bank का होलसेल डिपॉजिट (wholesale deposits) पिछले साल के 31 मार्च 2023 तक के डिपॉजिट के मुकाबले 31 मार्च 2023 को 19.4 फीसदी बढ़ गया है। दिसंबर तिमाही के मुकाबले इसमें 10.9 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *