अपनी पसंद के कार्ड नेटवर्क को चुन सकेंगे, 6 माह के भीतर नियम होगा लागू

मुंबई। आप डेबिट या क्रेडिट कार्ड ग्राहक हैं तो अब अपनी पसंद के नेटवर्क को चुन सकेंगे। बैंकों को यह सुविधा देनी होगी। आरबीआई ने आदेश में कहा कि बैंक किसी एक कार्ड नेटवर्क को चुनने के लिए ग्राहक को बाध्य नहीं कर सकते हैं। उन्हें कई कार्ड नेटवर्क का विकल्प देना होगा। इस नियम को छह महीने के भीतर लागू करना होगा।

आरबीआई ने बुधवार को क्रेडिट कार्ड जारीकर्ताओं से यह भी कहा कि वे कार्ड नेटवर्क के साथ कोई भी ऐसा समझौता या व्यवस्था न करें जो ग्राहकों को दूसरे नेटवर्क की सेवाएं लेने से रोकता हो। जिनके पास अभी कार्ड है, ऐसे ग्राहकों को कार्ड के नवीनीकरण के समय यह विकल्प देना होगा।

आरबीआई ने कहा, समीक्षा करने पर पता चला है कि कार्ड नेटवर्क और कार्ड जारीकर्ताओं के बीच मौजूद कुछ व्यवस्थाएं ग्राहकों के लिए विकल्प उपलब्ध कराने के लिहाज से सही नहीं हैं।

अमेरिकन एक्सप्रेस बैंकिंग कॉर्प, डायनर्स क्लब इंटरनेशनल, मास्टरकार्ड, नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया का रुपे और वीजा वर्ल्डवाइड जैसे नेटवर्क फिलहाल कार्ड की सुविधा देते हैं। कार्ड जारीकर्ताओं और नेटवर्क को नवीनीकरण और नए समझौते करते समय आरबीआई के नए दिशानिर्देशों का पालन करना होगा।

यह निर्देश उन क्रेडिट कार्ड जारीकर्ताओं पर लागू नहीं होगा जिनके सक्रिय कार्डों की संख्या 10 लाख या उससे कम है। इसके अलावा खुद के अधिकृत कार्ड नेटवर्क पर क्रेडिट कार्ड जारी करने वाले संस्थानों को इस निर्देशों से बाहर रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *