पेटीएम और पेटीएम पेमेंट्स बैंक के बीच आपसी करार हो गया अब खत्म

मुंबई- पेटीएम और पेटीएम पेंमेट्स बैंक ने कंपनियों के बीच आपसी करार खत्म करने का फैसला किया है। पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस ने शुक्रवार को शेयर बाजारों को बताया कि दोनों कंपनियों के बीच एक-दूसरे पर निर्भरता कम करने के लिए यह कदम उठाया गया है। निदेशक मंडल ने इन समझौतों को समाप्त करने और शेयरधारक समझौतों में संशोधन को मंजूरी दे दी।

इंटर करार खत्म करने का मतलब पेटीएम पेमेंट्स बैंक पेटीएम से अलग स्वतंत्र संस्थान के तौर पर काम करेगी। वन97 कम्युनिकेशन ने कहा, पेटीएम पेमेंट्स बैंक के शेयरधारकों ने बेहतर संचालन के लिए शेयरधारक समझौते को सरल बनाने पर भी सहमति जताई है। हाल में पेटीएम ने घोषणा की थी कि वह अपने ग्राहकों एवं कारोबारियों को निर्बाध सेवाएं देने के लिए अन्य बैंकों के साथ नई साझेदारी पर हस्ताक्षर करेगी।

आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक की सभी सेवाओं पर रोक लगा दी है। केवल ट्रांसफर और निकासी की अनुमति होगी। 15 मार्च के बाद वॉलेट, फास्टैग और नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड्स को टॉप अप नहीं कर सकेंगे। आप अपने अकाउंट में भी पैसा डिपॉजिट नहीं कर पाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *