जी एंटरटेनमेंट ने क्रिकेट अधिकार के उल्लंघन पर स्टार से मांगे 68 करोड़ रुपये

मुंबई- जी एंटरटेनमेंट ने ICC क्रिकेट राइट्स एग्रीमेंट की शर्तों के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए ब्रॉडकास्टर ‘स्टार’ से 68.54 करोड़ रुपए की रिफंड मांगी है। स्टार वॉल्ट-डिज्नी की सब्सिडियरी कंपनी है।

पिछले महीने जी एंटरटेनमेंट ने डिज्नी-स्टार के साथ 1.4 बिलियन डॉलर (तब करीब 11,637 करोड़ रुपए) का एग्रीमेंट कैंसिल कर दिया था। यह डील जी एंटरटेनमेंट ने इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) मेन्स और अंडर-19 क्रिकेट मैचों के प्रसारण के लिए डिज्नी-स्टार के साथ की थी।

इससे पहले स्टार ने भी ZEE को लीगल नोटिस भेजकर ब्रॉडकास्ट डील के उल्लंघन का आरोप लगाया था। जी के मुताबिक स्टार की ओर से भेजे गए नोटिस में कहा गया था कि जी ने राइट्स डील की पहली इंस्टॉलमेंट के रूप में 203.56 मिलियन डॉलर (करीब 1,691 करोड़ रुपए) के साथ कमीशन और इंटरेस्ट खर्चे का करीब 17 करोड़ रुपए का पेमेंट नहीं किया है।

30 अगस्त 2022 को जी ने स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में डिज्नी-स्टार के साथ ICC मेंस और अंडर-19 क्रिकेट के ब्रॉडकास्ट राइट्स के लिए लाइसेंसिंग एग्रीमेंट की जानकारी दी थी। यह एग्रीमेंट 26 अगस्त को हुआ थी जो 2024 से अगले 4 सालों के लिए था।

जी और स्टार के बीच ब्रॉडकास्ट का एग्रीमेंट भी जी-सोनी के बीच 10 बिलियन डॉलर (करीब ₹83,140 करोड़) के मर्जर डील के तहत था। माना जा रहा है कि सोनी की ओर से मर्जर कैंसिल करने के बाद जी ने स्टार के साथ ब्रॉडकास्ट डील कैंसिल करने का फैसला लिया था।

इससे पहले 22 जनवरी को सोनी ने जी के साथ मर्जर डील तोड़ दी थी। दिसंबर 2021 में इन दोनों कंपनियों ने इसके लिए एग्रीमेंट साइन किया था। अगर ये मर्जर हो जाता तो जी+सोनी 24% से ज्यादा की व्यूअरशिप के साथ देश का सबसे बड़ा एंटरटेनमेंट नेटवर्क बनता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *