आरबीआई गर्वनर बोले- पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर कार्रवाई की नहीं होगी समीक्षा

मुंबई- पेटीएम पेमेंट्स बैंक के खिलाफ की गई कार्रवाई की कोई समीक्षा नहीं होगी। बैंक पर प्रतिबंध का निर्णय व्यापक मूल्यांकन के बाद लिया गया है। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा, यदि आप निर्णय की समीक्षा की उम्मीद कर रहे हैं, तो मैं स्पष्ट रूप से कह दूं कि निर्णय की कोई समीक्षा नहीं होगी।

आरबीआई के केंद्रीय बोर्ड की बैठक के बाद सोमवार को पत्रकारों से शक्तिकांत दास ने कहा, आरबीआई की ओर से विनियमित संस्थाओं के खिलाफ कोई भी निर्णय व्यापक मूल्यांकन के बाद लिया जाता है। आरबीआई फिनटेक सेक्टर का समर्थन करता है। ग्राहकों के हितों की रक्षा के साथ-साथ वित्तीय स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए भी हम प्रतिबद्ध हैं।

पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर कार्रवाई के बाद ग्राहकों के सवालों के लिए आरबीआई इसी हफ्ते एक सवाल-जवाब जारी करेगा। इससे ग्राहकों को समझने में सुविधा होगी। प्रतिबंध लगाते समय आरबीआई ने कहा था कि यह निर्देश लगातार गैर-अनुपालन और निरंतर सामग्री पर्यवेक्षी चिंताओं के बाद दिया गया है।

आरबीआई ने 29 फरवरी तक पेटीएम पेमेंट बैंक की निकासी की सुविधाओं को छोड़कर सभी सेवाओं पर प्रतिबंध लगाया है। हालांकि, पेटीएम ने इस समय सीमा को आगे बढ़ाने की मांग की थी, पर कोई निर्णय नहीं हुआ। बैंक के मुखिया विजय शेखर शर्मा ने वित्त मंत्री से भी मुलाकात की थी, पर इसे आरबीआई का मामला कहकर दूरी बना ली थी। इससे पहले मार्च, 2022 में आरबीआई ने बैंक को नए ग्राहक जोड़ने पर प्रतिबंध लगाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *