मंदिर बनने से मुंबई के बिल्डर अब दौड़ रहे हैं अयोध्या, गजब कमाई की आस

मुंबई- अयोध्या के राम मंदिर (Ram Mandir) में जबसे प्राण प्रतिष्ठा हुई है, तब से अयोध्या में कई नई बातें दिख रही हैं। अब अयोध्या शहर मुंबई के रियल एस्टेट प्लेयर्स की पहली पसंद बन रही है। खबर है कि इस समय मुंबई के कम से कम सात नामचीन बिल्डर्स अयोध्या का रूख कर चुके हैं।

इन बिल्डरों में हीरानंदानी ग्रुप, गोदरेज प्रोपर्टीज, रेमंड रियलिटी, द हाउस ऑफ अभिनंदन लोढ़ा और ओबराय रियल्टी जैसे बड़े नाम शामिल हैं। द हाउस ऑफ अभिनंदन लोढ़ा के 7-स्टार एन्क्लेव द सरयू में ही बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्‍चन ने 14.5 करोड़ रुपये का प्‍लॉट खरीदा है। इसका एक और असर यह हुआ है कि वहां प्रोपर्टी की कीमतों में 179 फीसदी का उछाल आ गया है।

इस समय मंबई के नामचीन बिल्डर्स अयोध्या को ठिकाना बना रहे हैं। सभी बिल्डर वहां अधिक से अधिक लैंड बैंक बना रहे हैं। हर ग्रुप अपना बिजनेस डेवलपमेंट ऑपरेशन अयोध्या में चलाना चाह रहा है। ये रियल एस्टेट बिल्डर्स वहां तीन तरीके से काम कर रहे हैं। कोई तो वहां प्लॉटिंग करके जमीन बेचने को इच्छुक है तो कोई वहां रेसिडेंसियल टाउनशिप डेवलप कर रहा है। कुछ बिल्डर वहां कामर्शियल और हॉस्पिटेलिटी बिजनस में ज्यादा रुचि ले रहे हैं।

पिछले तीन महीने से वहां बड़े-बड़े ग्रुप सक्रिय हो गए हैं। वहां जो बिल्डर सक्रिय हैं, उनमें ओबराय रियल्टी (Oberoi Realty), हीरानंदानी ग्रुप (Hiranandani Group), गोदरेज प्रोपर्टीज (Godrej Properties), रेमंड रियल्टी (Raymond Realty), रनवाल ग्रुप (Runwal Group) और के. रहेजा कार्प (K Raheja Corp) शामिल है। खबर है कि इन्हें पिछले तीन महीने के दौरान मंदिरों के इस शहर जमीन की भारी खरीदारी की है।

जबसे वहां नव निर्मित मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा हुआ है, जमीन की कीमतों में जैसे आग लग गई है। बीते 22 जनवरी के बाद ही वहां रियल एस्टेट प्राइस (Real Estate Price in Ayodhya) में 179 फीसदी का उछाल आ चुका है। साल 2029 में वहां जो हमीन 1000 से 2000 रुपये वर्ग फुट में बिक रही थी, उसकी कीमत अभी चार से छह हजार रुपये पहुंच गई है।

राम मंदिर के आसपास जो जमीन पहले दो से तीन हजार रुपये वर्ग फुट मिल रही थी, उसकी कीमत अब 10 से 15 हजार रुपये वर्ग फुट तक पहुंच गई है। मंदिर से छह से 15 किलोमीटर की दूरी में भी यदि आप जमीन खरीदेंगे तो वहां भी रेट चार से नौ हजार रुपये वर्ग फुट तक चली गई है।

अयोध्या और आसपास के इलाकों में रियल एस्टेट की कीमतें चढ़ने का खामियाजा लोकल लोग उठा रहे हैं। अब लोकल लोगों के लिए अयोध्या में जमीन या मकान खरीदना बूते से बाहर हो चला है। स्थानीय निवासी रामानंद यादव कहते हैं कि अब तो यहां के लोकल जमीन बेच ही रहे हैं। खरीदने की तो औकात किसी की नहीं रही। मुंबई से सेठ लोग आके जमीन खरीद रहे हैं। उन्हें तो मुंबई के मुकाबले अयोध्या में जमीन सस्ती ही दिखती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *