साल भर की कमाई दो दिन में गंवाया एचडीएफसी ने,1.4 लाख करोड़ की चपत 

मुंबई- पिछले दो दिनों में HDFC बैंक के शेयरों में 11 प्रतिशत से ज्यादा की गिरावट से निवेशकों को 1.44 लाख करोड़ रुपये की चपत लगी है। हैरानी की बात यह है कि एचडीएफसी बैंक के मार्केट वेल्युएशन (HDFC Mcap) में बीते दो दिन में आई कमी उसकी पूरे साल की कमाई से भी ज्यादा है। 

HDFC बैंक का स्टैंडअलोन ट्रेलिंग बारह महीने (टीटीएम) का रेवेन्यू राजस्व 1.43 लाख करोड़ रुपये था। राजस्व की केल्कुलेशन नेट इंटरेस्ट इनकम को गैर-ब्याज इनकम में जोड़कर की जाती है। HDFC बैंक के शेयर में बुधवार को 8.4 प्रतिशत की गिरावट के बाद गुरुवार के कारोबारी सत्र में स्टॉक में 3.3 फीसदी की गिरावट आई। स्टॉक की कीमत में मार्च 2020 के बाद से दो दिनों की सबसे तेज गिरावट है। 

अगर कोविड के समय में देखे गए उतार-चढ़ाव को छोड़ दिया जाए, तो एचडीएफसी बैंक के शेयरों ने मई 1995 में अपनी लिस्टिंग के बाद से केवल छह बार इतनी बड़ी गिरावट झेली है। 

HDFC बैंक के शेयरों में गिरावट तब शुरू हुई जब दिसंबर तिमाही के नतीजे शेयर बाजार को पसंद नहीं आए। साथ ही वैश्विक बाजारों में गिरावट का असर देसी शेयर बाजारों पर भी पड़ा जिससे मार्केट और एचडीएफसी बैंक, दोनों में गिरावट आई। 

निफ्टी-50 पर सबसे ज्यादा वेटेज वाले एचडीएफसी बैंक ने पिछले दो सत्रों के दौरान सूचकांक में गिरावट में लगभग 60 प्रतिशत का योगदान दिया है। बेंचमार्क निफ्टी-50 गुरुवार के सत्र में दो दिनों में 2.6 फीसदी की गिरावट के साथ 21462.25 पर बंद हुआ। तीस शेयरों वाले बीएसई सेंसेक्स में भी बैंक की अच्छी-खासी हिस्सेदारी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *