अयोध्या के राम मंदिर को भुनाने के लिए कंपनियों ने अब लगाया जमघट 

मुंबई- अयोध्या में नव-निर्मित राम मंदिर के आसपास तो ब्रांड की इंट्री नहीं हो पाई है, लेकिन पुराने शहर, पुराने मंदिर, सरयू के तट, सब जगह आपको ब्रांड की झलक दिखगी। देश के शीर्ष ब्रांड इस समारोह का फायदा उठाने के लिए इस मेगा इवेंट का हिस्सा बनने के लिए कतार में लग गए हैं। वहां ता कुछ ऐसे भी ब्रांड की छवि देखने को मिलेगी, जिनकी हिंदी बेल्ट में अभी कोई खास उपस्थिति नहीं है। 

22 जनवरी को होने वाले समारोह में देश के सभी हिस्से तो मेहमान आएंगे ही, विदेशों से भी कुछ मेहमान के आने की संभावना व्यक्त की जा रही है। भगवान राम की ससुराल यानी नेपाल देश से भी उनके भक्त आ रहे हैं। इसलिए कॉरपोरेट जगत को लग रहा है कि वहां अपना छाप जरूर छोड़ें। 

एफएमसीजी कंपनी आईटीसी के होर्डिंग वहां जगह जगह नजर आ रहे हैं। आईटीसी के अगरबत्ती बिजनेस के चीफ एक्जीक्यूटिव गौरव तायल का कहना है कि यह ब्रांडिंग के लिए उपयुक्त समय है। यह एक ऐतिहासिक और पवित्र पल है जहां अपनी उपस्थिति को बेहतर तरीके से दर्ज कराया जा सकता है। 

तायल का कहना है कि इसी बहाने श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की सेवा का अवसर भी मिल रहा है। कंपनियां इस समय अयोध्या को सजाने संवारने में तो योगादन कर ही रही हैं, श्रद्धालुओं की सेवा का अवसर भी मिल रहा है। कंपनियां सरयू के तट पर चेंजिंग रूम बना कर सेवा कर रहे हैं। 

इस समय दिवाली-क्रिसमस-न्यू ईयर बीत चुका है। आईपीएल जैसे बड़े इवेंट में अभी तीन महीने की देरी है। ऐसे में कॉरपोट्स को अपनी उपस्थिति दिखाने के लिए प्राण प्रतिष्ठा समारोह बेहतरीन अवसर है। इसलिए बैंक से लेकर एफएमसीजी कंपनी तक इसमें बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं। 

कॉरपोरेट्स ने इस अवसर पर मीडिया में भी अभियान शुरू कर दिया है। बीते 17 जनवरी से ही स्थानीय अखबारों में आधे-आधे पेज का विज्ञापन आने लगा है। बताया जाता है कि यह कैम्पेन 23 जनवरी तक चलेगा। इस अवसर पर टीवी कामर्शियल, डिजिटल कामर्शियल और आउटडोर एडवर्टिजमेंट की लॉन्च किया जा रहा है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *