मदर डेयरी अब भैंस का दूध भी बेचेगी, रोजाना बेचती है 45 लाख लीटर दूध 

मुंबई- कभी-कभी सुनने में आता है कि कुछ लोग फैट (Fat) से बचने के लिए टोंड मिल्क (Toned Milk) का उपयोग करने लगते हैं। टोंड मिल्क का मतलब है दूध में कम फैट। कम फैट यानी कम मलाई। जिन्हें दूध में मलाई पसंद है, वे फुल क्रीम दूध (Full Cream Milk) पसंद करते हैं।  

अब कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिनका जी फुल क्रीम मिल्क से नहीं भरता। वे और मलाई तथा गाढ़ेपन के लिए खांटी भैंस का दूध का दूध (Rich & Creamy Milk) खोजते हैं। ऐसे लोगों के लिए सहकारी क्षेत्र की कंपनी मदर डेयरी (Mother Dairy) भी तैयार हो रही है। कंपनी की योजना दिल्ली एनसीआर के बाजार में भैंस का दूध या बफेलो मिल्क उतारने की है। यदि सबकुछ ठीक रहा तो एक-आध सप्ताह में यह बाजार में आ जाएगा। 

मदर डेयरी के मैनेजिंग डाइरेक्टर मनीष बंदलिश बताते हैं कि अभी उनके टोंड मिल्क में फैट कंटेंट तीन फीसदी होता है। गाय के दूध में यह कंटेंट चार फीसदी होता है। यदि आप डबल टोंड मिल्क (Double Toned Milk) लेते हैं तो उसमें फैट कंटेंट महज डेढ़ फीसदी होता है। अब जो यह भैंस का दूध उतारने वाली है, उसमें फैट कंटेंट साढ़े छह फीसदी है। मतलब कि हर घूंट में फुल क्रीम दूध से ज्यादा मलाई।

मनीष बंदलिश का कहना है कि उनकी कंपनी तो वर्षों से टोंड मिल्क और फुल क्रीम मिल्क बेचती रही है। हाल के वर्षों में ऐसा देखा गया लोग रिच और क्रीमी दूध की मांग करने लगे हैं। ऐसा दूध तो खांटी भैंस का ही होगा। इसलिए कंपनी ने बफेलो मिल्क को बाजार में उतारने का फैसला किया है। उन्होंने बताया कि बफेलो मिल्क की शुरुआत दिल्ली और एनसीआर के बाजार से होगी। बाद में इसका विस्तार अन्य मार्केट में भी किया जाएगा। उनका कहा है कि यह चरणबद्ध तरीके से कंपनी के हर डिस्टीब्यूशन नेटवर्क जैसे कि मदर डेयरी बूथ, जनरल मर्चेंट, माडर्न ट्रेड, ई-कामर्स और क्यू-कामर्स प्लेटफार्म्स पर भी उपलब्ध होगा। 

यदि आप अभी टोंड मिल्क या फुल क्रीम मिल्क पीने के आदी हैं तो आपको भैंस का दूध पीने के लिए कुछ ज्यादा जेब ढीले करने होंगे। अभी टोंड दूध का दाम 54 रुपये प्रति लीटर है जबकि फुल क्रीम दूध का दाम 66 रुपये लीटर। भैंस के दूध के लिए आपको 70 रुपये प्रति लीटर का दाम चुकाना होगा।

मदर डेयरी की शुरुआत नेशनल डेयरी डेवलपमेंट बोर्ड (NDDB) की पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडियरी के रूप में साल 1974 में हुई थी। इसकी स्थापना भारत को दूध की दृष्टि से आत्मनिर्भर बनाने के लिए की गई थी। इस वर्ष कंपनी ने पहला प्रोडक्ट भैंस का दूध ही लॉन्च किया है। स्वर्ण जयंती वर्ष में कंपनी कई नए प्रोडक्ट लॉन्च करने की योजना बना रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *