बाजार का रिकॉर्ड, इन्फोसिस संग आईटी शेयर तेजी में, मार्केट कैप 373 लाख करोड़  

मुंबई- हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन यानी शुक्रवार को शेयर बाजार ने ऑलटाइम हाई बनाया। कारोबार के दौरान सेंसेक्स 72,720 और निफ्टी 21,928 के स्तर तक पहुंचा। बाद में ये थोड़ा नीचे आया और सेंसेक्स 847 अंक चढ़कर 72,568 पर बंद हुआ। निफ्टी भी 247 अंक चढ़कर 21,894 के स्तर पर बंद हुआ। IT और सरकारी बैंकों के शेयरों में सबसे ज्यादा खरीदारी रही। 

निफ्टी IT इंडेक्स 5.14% की तेजी के साथ बंद हुआ। चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के नतीजों के बाद इंफोसिस का शेयर 120.80 रुपए या 8.08% चढ़कर 1,615 रुपए पर बंद हुआ। TCS 3.92% चढ़कर 3,882 रुपए पर बंद हुआ। इनके अलावा कोफोर्ज 5.71%, HCL टेक्नोलॉजीज 4.65%, विप्रो 3.97%, LTI 4.63% और एम्फेसिस 3.81% बढ़कर बंद हुआ। 

TCS और इंफोसिस की दिसंबर तिमाही के नतीजे आने के बाद ज्यादातर IT शेयरों में शानदार तेजी। दिसंबर तिमाही के आने वाले नतीजे मजबूत रहने की उम्मीद से बाजार का सेंटीमेंट पॉजिटिव बना हुआ है। 2024 की पहली छमाही में US फेड और RBI ब्याज दरों में कटौती कर सकती है, जो बाजार के लिए पॉजिटिव है। 

अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में TCS का नेट प्रॉफिट सालाना आधार पर करीब 2% बढ़कर ₹11,058 करोड़ रहा। पिछले साल इसी तिमाही में कंपनी का नेट प्रॉफिट ​​​​₹10,846 करोड़ था। 

IT कंपनी विप्रो को सालाना आधार पर 12% की गिरावट के साथ ₹2,694 करोड़ रुपये का फायदा हुआ है। यह लगातार चौथी तिमाही है, जब कंपनी के प्रॉफिट में गिरावट रही है। कंपनी का कंसोलिडेटेड रेवेन्यू ₹22,205 करोड़ रहा है। सालाना आधार पर इसमें 4.4% की गिरावट रही है। रिजल्ट के साथ कंपनी ने ₹1 प्रति शेयर अंतरिम डिविडेंट का भी ऐलान किया है। जिसका पेमेंट 10 फरवरी तक करेगी। 

HCL टेक का मुनाफा बढ़कर 4,350 करोड़ रुपए हो गया है, जो सितंबर तिमाही में 3,832 करोड़ रुपए था। तिमाही आधार पर कंपनी का मुनाफा 13.5% बढ़ा है। कंपनी का रेवेन्यू भी तिमाही आधार पर 26,672 करोड़ रुपए से बढ़कर 28,446 करोड़ रुपए हो गया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *