2022 के बाद पहली बार बिटकॉइन की कीमत 45,000 डॉलर के पार पहुंची 

मुंबई- दुनिया की सबसे पुरानी, सबसे बड़ी और सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन के निवेशकों के लिए नया साल खुशखबरी लेकर आया है। मंगलवार को इसकी कीमत 45,000 डॉलर के पार पहुंच गई। अप्रैल 2022 के बाद पहली बार बिटकॉइन की कीमत इस स्तर पर पहुंची है।  

एक्सचेंज ट्रेडेड स्पॉट बिटकॉइन फंड्स को मंजूरी मिलने की उम्मीद में बिटकॉइन की कीमत में तेजी आई है। बिटकॉइन की कीमत में पिछले साल यानी 2023 में 156 फीसदी तेजी आई जो 2020 के बाद इसका सबसे बेहतर प्रदर्शन है। 

मंगलवार को ट्रेडिंग के दौरान बिटकॉइन की कीमत 45,532 डॉलर पर पहुंच गई जो इसका 21 महीने का उच्चतम स्तर है। हालांकि यह अब भी अपने उच्चतम स्तर से काफी दूर है। नवंबर 2021 में बिटकॉइन की कीमत 69,000 डॉलर के रेकॉर्ड हाई पर पहुंची थी। निवेशकों को उम्मीद है कि अमेरिका का सिक्योरिटीज रेगुलेटर स्पॉट बिटकॉइन ईटीएफ को मंजूरी दे सकता है। इससे लाखों निवेशकों के लिए बिटकॉइन मार्केट का रास्ता खुल सकता है और अरबों डॉलर का निवेश आ सकता है। यही कारण है कि बिटकॉइन की कीमत में तेजी देखने को मिल रही है। 

इस बीच इथेरियम ब्लॉकचेन नेटवर्क से जुड़ी कॉइन इथर में भी मंगलवार को 1.45 फीसदी तेजी आई और यह 2,386 डॉलर पर पहुंच गई। जानकारों का कहना है कि इस साल क्रिप्टो मार्केट में काफी ग्रोथ देखने को मिल सकती है। स्पॉट ईटीएफ से क्रिप्टो मार्केट में काफी फंड आने की उम्मीद है।  

साथ ही बिटकॉइन को दो हिस्सों में बांटने और अमेरिका तथा दुनिया के दूसरे देशों में मॉनीटरी पॉलिसी में बदलाव की उम्मीद से भी बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसीज में तेजी देखने को मिल सकती है। एक अनुमान के मुताबिक भारत में करीब दस फीसदी लोगों के पास क्रिप्टोकरेंसी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *