दिसंबर में जीएसटी कलेक्शन 10 पर्सेंट बढ़कर 1.65 लाख करोड़ रुपये पर  

मुंबई- जीएसटी कलेक्शन दिसंबर में सालाना आधार पर 10 प्रतिशत बढ़कर लगभग 1.64 लाख करोड़ रुपये हो गया है। वित्त मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी। एक साल पहले की समान अवधि में जीएसटी संग्रह 1.49 लाख करोड़ रुपये रहा था। मंत्रालय ने बयान में कहा कि इसके साथ ही अप्रैल-दिसंबर, 2023 की अवधि में सकल जीएसटी संग्रह 12 प्रतिशत की मजबूत वृद्धि के साथ 14.97 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। 

पिछले साल की समान अवधि में इन नौ महीनों में कर संग्रह 13.40 लाख करोड़ रुपये रहा था। इस तरह वित्त वर्ष 2023-24 के पहले नौ महीने की अवधि में औसत मासिक कर संग्रह 1.66 लाख करोड़ रुपये रहा है। यह पिछले वित्त वर्ष 2022-23 की समान अवधि में दर्ज 1.49 लाख करोड़ रुपये के औसत कर संग्रह से 12 प्रतिशत अधिक है।  

मंत्रालय ने बयान में कहा, ‘दिसंबर में एकत्रित सकल जीएसटी राजस्व 1,64,882 करोड़ रुपये है, जिसमें से सीजीएसटी 30,443 करोड़ रुपये, एसजीएसटी 37,935 करोड़ रुपये, आईजीएसटी 84,255 करोड़ रुपये (माल के आयात पर एकत्रित 41,534 करोड़ रुपये सहित) है। इसके अलावा उपकर के रूप में 12,249 करोड़ रुपये (माल के आयात पर एकत्रित 1,079 करोड़ रुपये सहित) का संग्रह हुआ है।’ 

खास बात यह है कि दिसंबर इस साल का सातवां महीना है जिसमें 1.60 लाख करोड़ रुपये से अधिक का जीएसटी संग्रह हुआ है। पिछले कुछ वर्षों में मासिक जीएसटी कलेक्शन में वृद्धि हुई है। यह 2017-18 में प्रति माह औसतन एक लाख करोड़ रुपये से कम था। महामारी से प्रभावित 2020-21 के बाद कलेक्शन तेजी से बढ़कर 2022-23 में औसतन 1.51 लाख करोड़ रुपये हो गया। बढ़ती आर्थिक गतिविधियों के कारण और अधिक कुशल कर प्रशासन के चलते भी कलेक्शन बढ़ रहा है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *