कीमतें व ब्याज दरें बढ़ने के बाद भी 7 शहरों में रिकॉर्ड 4.77 लाख बिके घर

मुंबई- चालू वर्ष में औसत कीमत 15 फीसदी बढ़ने और ब्याज दरों में तेजी के बावजूद सात प्रमुख शहरों में इस साल रिकॉर्ड 4.77 लाख मकान बिके हैं। एक साल पहले के 3.65 लाख मकानों की तुलना में 31 फीसदी ज्यादा बिक्री हुई है। इससे पहले 2014 में रिकॉर्ड 3.43 लाख मकानों की बिक्री हुई थी। रियल एस्टेट सलाहकार एनारॉक के मुताबिक, 2023 में अब तक किसी भी कैलेंडर साल में सबसे ज्यादा बिक्री हुई है।

एनारॉक के मुताबिक, वैश्विक प्रतिकूलताओं, घरेलू संपत्ति की बढ़ती कीमतों और इस साल की पहली छमाही में ब्याज दरों में बढ़ोतरी के बावजूद 2023 भारतीय आवासीय क्षेत्र के लिए बेहतरीन रहा। कच्चे माल की लागत में वृद्धि और मजबूत मांग के कारण इन सात शहरों में आवासीय कीमत 10 से 24 फीसदी तक बढ़ीं जो औसत 15 फीसदी रही। औसत दाम 6,150 रुपये प्रति वर्ग फुट से बढ़कर 7,080 रुपये हो गए।

आंकड़ों के अनुसार, शीर्ष सात शहरों में मुंबई महानगर क्षेत्र (एमएमआर) में सबसे अधिक बिक्री रही, जो 40 फीसदी बढ़कर 1,53,870 इकाई रही। पिछले साल 1,09,730 यूनिट्स की बिक्री हुई थी। दूसरे नंबर पर पुणे रहा। पुणे में आवासीय बिक्री 57,145 से 52 फीसदी बढ़कर 86,680 इकाई पर पहुंच गई। 

दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में बिक्री केवल तीन फीसदी बढ़कर 65,625 इकाई रही। पिछले साल यह 63,710 इकाई रही थी। बंगलूरू में बिक्री 49,480 यूनिट्स से 29 फीसदी बढ़कर 63,980 इकाई रही। हैदराबाद में बिक्री 30 फीसदी की तेजी के साथ 61,715 यूनिट्स रही। कोलकाता में नौ फीसदी की तेजी के साथ 23,030 इकाई की बिक्री दर्ज की गई।  

चेन्नई में बिक्री 16,100 इकाइयों से 34 फीसदी बढ़कर 21,630 इकाई रही। आंकड़ों के मुताबिक, नए मकानों की लॉन्चिंग 25 फीसदी बढ़कर 4.46 लाख यूनिट रही है। 2022 में यह 3.58 लाख यूनिट्स रही थी। एमएमआर में सबसे ज्यादा 27 फीसदी की तेजी दर्ज की गई जो 1,57,700 यूनिट रही। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *