बीमा कंपनियों की घटी बिक्री, 2022-23 में बेचीं 2.84 करोड़ पॉलिसियां 

मुंबई- बीमा कंपनियों ने वित्त वर्ष 2022-23 में कुल 2.84 करोड़ पॉलिसियां बेचीं हैं। एक साल पहले के 2.91 करोड़ की तुलना में यह 2.21 फीसदी कम है। निजी कंपनियों ने 80.42 लाख और सरकारी कंपनियों ने 2.04 करोड़ पॉलिसियां बेचीं हैं। इन कंपनियों को कुल 7.82 लाख करोड़ रुपये का प्रीमियम मिला है जो एक साल पहले के 6.92 लाख करोड़ रुपये से 13 फीसदी अधिक है। 

इरडाई की जारी सालाना रिपोर्ट के अनुसार, कुल प्रीमियम में निजी कंपनियों की हिस्सेदारी 2.64 लाख करोड़ से बढ़कर 3.07 लाख करोड़ रुपये की और सरकारी की 4.28 लाख करोड़ से बढ़कर 4.74 लाख करोड़ रुपये रही है। 

जीवन बीमा कंपनियों को नए बिजनेस प्रीमियम के रूप में 3.71 लाख करोड़ रुपये मिला है जो एक साल पहले के 2.15 लाख करोड़ रुपये की तुलना में 17.9 फीसदी बढ़ा है। इसमें निजी कंपनियों का हिस्सा 1.39 लाख करोड़ रुपये और सरकारी का 2.32 लाख करोड़ रुपये रहा है। 

नवीनीकरण प्रीमियम के रूप में 2022-23 में कुल 4.11 लाख करोड़ रुपये प्रीमियम मिला है जो एक साल पहले 3.78 लाख करोड़ रुपये था। इसमें निजी कंपनियों का हिस्सा 1.68 लाख करोड़ और सरकारी का 2.42 लाख करोड़ रुपये रहा है। रिपोर्ट के अनुसार, 2022-23 में सरकारी जीवन बीमा कंपनियों की कुल प्रीमियम में बढ़त 10.90 फीसदी और निजी की 16 फीसदी से ज्यादा रही है। 

नवीनीकरण बीमा के प्रीमियम का हिस्सा 52.56 फीसदी रहा है जबकि नए प्रीमियम का हिस्सा 47.44 फीसदी रहा है। नए कारोबार की वृद्धि दर 17.90 फीसदी और नवीनीकरण की 8.88 फीसदी रही है। कुल पॉलिसियों में पारंपरिक उत्पादों का हिस्सा 86.59 फीसदी रहा है। इसकी वृद्धि दर 14.40 फीसदी रही है। यूलिप का हिस्सा 12.41 फीसदी रहा है और इसकी वृद्धि दर केवल 4.61 फीसदी रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *