शेयरों में निवेश कर के एलआईसी ने 2023 में कमाया 2.28 लाख करोड़ रुपये

मुंबई- देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी और भारतीय बाजार की दिग्गज निवेशक एलआईसी ने 2023 में शेयरों में निवेश कर 2.28 लाख करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया है। दिसंबर, 2022 में इसके निवेश का कुल मूल्य 9.61 लाख करोड़ रुपये था जो सितंबर तिमाही के अंत तक 11.89 लाख करोड़ रुपये हो गया है।

आंकड़ों के मुताबिक, एलआईसी ने कुल 260 कंपनियों में निवेश किया है। इस पूरे साल में निफ्टी ने 18 फीसदी का रिटर्न दिया है। हालांकि, मार्च में इसके निचले स्तर से देखें तो यह रिटर्न 28 फीसदी से ज्यादा हो गया है। एलआईसी का निफ्टी 50 में जो निवेश है, उससे 86 फीसदी का फायदा मिला है। निफ्टी50 में से 40 शेयरों ने दोगुना लाभ दिया है। इस साल निफ्टी जहां 21,600 के पार हुआ है, वहीं सेंसेक्स ने भी बुधवार को 72,000 के आंकड़े को पहली बार पार किया है। 

एलआईसी को एनटीपीसी से 86 फीसदी का मुनाफा मिला है। एलआईसी के पोर्टफोलियो में 21 शेयर ऐसे हैं जिन्होंने 2023 में 328 फीसदी तक का रिटर्न दिया है। इसमें बीएसई शीर्ष पर है। बीएसई के शेयर ने एलआईसी के निवेश को तीन गुना से ज्यादा बढ़ाया है। 

एलआईसी ने सुजलॉन में भी दांव लगाया। इस शेयर ने 250 फीसदी का मुनाफा एलआईसी को दिया है। जबकि रेल विकास निगम के शेयरों में निवेश से 160 फीसदी का फायदा हुआ है। टाटा मोटर्स में निवेश का मूल्य बढ़कर दोगुना हो गया है। बजाज ऑटो के शेयर से भी कंपनी को अच्छा रिटर्न मिला है। 

इसके प्रमुख शेयरों की बात करें तो लार्सन एँड टुब्रो में इसके निवेश का मूल्य एक साल में36,165 करोड़ से बढ़कर 52,786 करोड़ रुपये हो गया है। कोल इंडिया में 15,266 करोड़ से बढ़कर 24,087 करोड़, एनटीपीसी में 11,190 करोड़ से 13,598 करोड़ और टाटा मोटर्स में निवेश 6,722 करोड़ से बढ़कर 13,519 करोड़ रुपये हो गया है। अदाणी पोर्ट में निवेश का मूल्य 16,156 करोड़ से बढ़कर 19,969 करोड़ औऱ् सुजलॉन में 148 करोड़ का निवेश बढ़कर 519 करोड़ रुपये हो गया है। भेल में भी एलआईसी को करीब तीन गुना मुनाफा मिला है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *