जानिए दाऊद इब्राहिम कैसे पहुंचा इस मुकाम तक, 55,000 करोड़ का मालिक

मुंबई-1993 मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को लेकर बड़ी खबर आ रही है। कहा जा रहा है कि पाकिस्तान में दाऊद को जहर दे दिया गया। उसकी हालात नाजुक हैं और वो अस्पताल में भर्ती है। हालांकि इस खबर की अब तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। दाऊद ने डर और खौफ के दम पर अरबों का धंधा खड़ा किया था। भारत-पाकिस्तान ही नहीं दाऊद का कारोबार दुनियाभर के देशों में फैला था।  

एक जमाने में मुंबई में हफ्ता मांगने वाला, चोरी करने वाले दाऊद ने काले धंधे के दम पर अरबों की दौलत जुटा ली। कोई ऐसा काला कारोबार नहीं थी, जहां दाऊद का पैसा न लगा हो। 

26 दिसंबर 1955 को मुंबई के रत्नागिरी में जन्मे दाऊद इब्राहिम का बचपन वहीं बीता। उसके पिता मुंबई पुलिस में कॉन्स्टेबल थे। दाऊद के अंडरवर्ल्ड डॉन बनने की शुरुआत छोटी-मोटी चोरी, हफ्ता वसूली से हुई। धीरे-धीरे उसने अंडरवर्ल्ड क्राइम का इंटरनेशनल नेटवर्क खड़ा कर लिया। उसने अपनी कंपनी को नाम दिया ‘डी कंपनी’। भारत, पाकिस्तान समेत दुनिया के 50 से ज्यादा देशों में उसने काले कारोबार से करोड़ों की संपत्ति खड़ी कर ली। 

दाऊद इब्राहिम अंडरवर्ल्ड की दुनिया का वो नाम है, जिसके नाम पर काला कारोबार चलता है। द गार्जियन की रिपोर्ट के मुताबिक दाऊद ने 1980 और 1990 के दशक की शुरुआत में वेश्यावृत्ति, जुआ और ड्रग्स जैसे धंधे से करोड़ा रुपये कमाए। अवैध शराब, लेकर स्मगलिंग सब उसके इशारों पर होता था। दाऊद की ये फितरत थी कि वो किसी एक धंधे पर टिक कर नहीं रहता था। उसने अपने कारोबार का विस्तार अब रियल एस्टेट की तरफ शुरू कर दिया। उसकी प्रॉपर्टी भारत, पाकिस्तान और खाड़ी देशों में हैं।  

मुंबई के रियल एस्टेट में उनका दबदबा था। उसने रियल एस्टेट के धंधों के दम पर उसने अरबों रुपये कमाए हैं। देश के अलग-अलग हिस्सों में उसके कई फ्लैट्स, होटल, रेस्टोरेंट है। दाऊद को महंगी गाड़ियों का शौक है। उसके काफिले में लग्जरी गाड़ियों का कलेक्शन है।

अंडरवर्ल्ड डॉन का कारोबार कितना बड़ा है, इसका सही-सही अंदाजा तो कोई नहीं लगा सका है। साल 2015 में फोर्ब्स के मुताबिक दाऊद के पास कुल 55,610 करोड़ रुपये की संपत्ति है। उसकी कमाई का मुख्य जरिया मर्डर, तस्करी, फिरौती, वेश्यावृत्ति, ड्रग्स, जुआ, अवैध शराब, स्मगलिंग जैसे अवैध धंधे है। उसके कारोबार को डी कंपनी के लोगों के अलावा मुख्य रूप से बेटी और दामाद संभालते हैं। दाऊद की कुल संपत्ति का 40% हिस्सा भारत से आता है। वहीं उसकी 50 से अधिक संपत्ति UAE और UK में है। 

सरकार ने कई राउंड में दाऊद की संपत्तियों को नीलाम किया है। साल 2017 , साल 2020 में भारत सरकार ने दाऊद इब्राहिम की संपत्तियों को नीलाम कर डॉन को झटका दिया। साल 2017 में नीलाम की गई डॉन की संपत्ति को मुंबई स्थित सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट ने खरीदा था। उसके रौनक अफरोज रेस्टोरेंट, जिसे दिल्ली में जायका के नाम से जाना जाता है, उसे 4.53 करोड़ में खरीदा। वहीं दामरवाला में दाऊद की संपत्ति को 3.53 करोड़ रुपये में बेचा गया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *