एक्सिस म्यूचुअल फंड का बुरा हाल, 1 साल में एयूएम केवल चार प्रतिशत बढ़ा 

मुंबई। देश के आठवें नंबर के फंड हाउस एक्सिस म्यूचअल फंड का बुरा हाल है। पिछले एक साल में इसके असेट अंडर मैनेजमेंट यानी एयूएम में केवल चार प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। अगर फंड हाउस की 42 कंपनियों को देखें तो इसका प्रदर्शन काफी बुरा है। जबकि इसी दौरान शीर्ष 10 फंड हाउसों के एयूएम में 10 प्रतिशत से ज्यादा की बढ़त हुई है।  

एयूएम उसे कहते हैं जो निवेशकों के निवेश का मूल्य होता है। एसोसएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों के मुताबिक, एक्सिस का एयूएम पिछले साल सितंबर तिमाही में 2.48 लाख करोड़ रुपये था जो अब सितंबर में 2.59 लाख करोड़ रुपये हो गया है। यानी केवल चार प्रतिशत की विकास दर है। शीर्ष 10 में इसके बराबर वृद्ध केवल बंधन म्यूचुअल फंड की रही है। बंधन का एयूएम इसी दौरान 1.19 लाख करोड़ से बढ़कर 1.24 लाख करोड़ रुपये हो गया है।

आंकड़ों के मुताबिक, बिरला म्यूचुअल फंड का एयूएम इसी दौरान 2.82 लाख करोड़ से 11 प्रतिशत बढ़कर 3.11 लाख करोड़ रुपये हो गया है। डीएसपी का 18 प्रतिशत बढ़कर 1.30 लाख करोड़ रुपये जबकि एचडीएफसी म्यूचुअल फंड का एयूएम 22 प्रतिशत बढ़कर 5.24 लाख करोड़ रुपये हो गया है। दूसरा सबसे बड़ा फँड हाउस आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल का एयूएम 4.76 लाख करोड़ से 23 प्रतिशत बढ़कर 5.81 लाख करोड़ रुपये हो गया।  

कोटक म्यूचुअल फंड का एयूएम इसी दौरान 18 प्रतिशत बढ़कर 3.33 लाख करोड़ रुपये जबकि निप्पॉन का एयूएम 23 प्रतिशत बढ़कर 3.50 लाख करोड़ रुपये हो गया है। एसबीआई का एयूएम 21 प्रतिशत बढ़कर 8.26 लाख करोड़ रुपये हो गया है। यूटीआई के एयूएम में केवल 14 प्रतिशत की बढ़त हुई है और यह 2.66 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया है।  

सूत्र बताते हैं कि हाल के दिनों में एक्सिस फंड के सीनियर से लेकर जूनियर तक करीब 15 -20 प्रतिशत लोगों ने नौकरी छोड़ दी है। हाल के समय में इसमें हुए घोटाले और इनसाइडर ट्रेडिंग के कारण इस फंड की बहुत बदनामी हुई थी। इसकी कुछ स्कीमों के प्रदर्शन की बात करें तो इसके हाइब्रिड फंड ने दो साल में केवल 3.82 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। इसी अवधि में आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल के इक्विटी और डेट फँड ने 19 प्रतिशत जबकि एचडीएफसी की स्कीम ने 12 प्रतिशत का रिटर्न दिया।  

एक्सिस की इस स्कीम ने एक साल में केवल 11 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल की इस स्कीम ने एक साल में 25 प्रतिशत और एचडीएफसी की स्कीम ने 15 प्रतिशत का फायदा निवेशकों को दिया है। फार्मा फंड की बात करें तो एक्सिस के फंड ने दो साल में 9.87 प्रतिशत, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल के फंड ने 14 और निप्पॉन के फार्मा फंड ने 12 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। ऐसे में इस फंड ने पिछले एक साल में बेंचमार्क की तुलना से काफी कम रिटर्न दिया है, वह भी तब जब सेंसेक्स और निफ्टी लगातार नई ऊंचाई बना रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *