इस साल सात शहरों में मकानों की बिक्री पहुंच सकती है 4.5 लाख करोड़ रुपये 

मुंबई- मकानों की बिक्री इस साल सात प्रमुख शहरों में 4.5 लाख करोड़ रुपये मूल्य के पार पहुंच सकती है। पिछले वर्ष की तुलना में यह 38 फीसदी अधिक होगी। एनारॉक के मुताबिक, ज्यादा वॉल्यूम, कीमतों के बढ़ने और लग्जरी मकानों की मांग में तेजी बनी रहेगी। 

आंकड़ों के मुताबिक, कैलेंडर साल 2022 में मकानों की कुल बिक्री 3.27 लाख करोड़ रुपये की थी। इन सात शहरों में दिल्ली-एनसीआर, मुंबई-एमएमआर, कोलकाता, चेन्नई, बंगलूरू, पुणे और हैदराबाद हैं। इस कैलेंडर साल के पहले नौ महीनों में प्रारंभिक बाजार में आवासीय संपत्तियों की बिक्री 3.48 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। यह एक साल पहले की इसी अवधि की तुलना में सात फीसदी अधिक है। 

त्योहारी सीजन के कारण सभी बाजारों में मकानों की बिक्री में भारी मांग रही है। जनवरी से सितंबर तक सात शहरों मे 3.49 लाख मकान बेचे गए हैं। यह आंकड़ा इस साल 4.5 लाख इकाई हो सकता है जो 2022 में 3.65 लाख इकाई था। जनवरी से सितंबर के बीच बंगलूरू में मकानों की बिक्री 42 फीसदी बढ़कर 38,517 करोड़ रुपये रही है जबकि कोलकाता में 19 फीसदी बढ़कर 9,025 करोड़ रुपये रही है। 

96 फीसदी बढ़त के साथ पुणे शीर्ष पर रहा है। यहां जनवरी से सितंबर तक 39,945 करोड़ रुपये के मकान बिके हैं जो एक साल पहले 20,406 करोड़ रुपये के बिके थे। चेन्नई में बिक्री 45 फीसदी बढ़कर 11,374 करोड़ रुपये रही है जो एक साल पहले 7,825 करोड़ रुपये थी। 

दिल्ली-एनसीआर में बिक्री 38,895 करोड़ रुपये से 29 फीसदी बढ़कर 50,188 करोड़ रुपये रही है। मुंबई-एमएमआर में 41 फीसदी बढ़त के साथ 1.64 लाख करोड़ रुपये की बिक्री हुई जो एक साल पहले 1.16 लाख करोड़ रुपये थी। हैदराबाद में 43 फीसदी बढ़कर बिक्री 35,802 करोड़ रुपये रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *