एस्सार गुजरात में 55,000 करोड़ व अदाणी बिहार में करेगी 8,700 करोड़ निवेश 

मुंबई- एस्सार समूह गुजरात में एनर्जी, पावर और पोर्ट प्रोजेक्ट में 55,000 करोड़ का निवेश करेगा। इसने गुजरात सरकार के साथ समझौता किया है। इससे 10,000 नौकरियां पैदा होंगी। पिछले 40 वर्षों में इसने एनर्जी पर एक लाख करोड़ निवेश किया है। पिछले चार दशक में एस्सार ने गुजरात में ऊर्जा, धातु एवं खनन और बुनियादी ढांचागत क्षेत्रों में एक लाख करोड़ रुपये से अधिक का निवेश किया है। इनमें वाडिनार में दो करोड़ टन प्रति वर्ष की तेल रिफाइनरी और हजीरा में एक इस्पात संयंत्र शामिल हैं। हालांकि, कंपनी ने अपना कर्ज चुकाने के लिए पिछले कुछ वर्षों में ये परियोजनाएं बेच दी थीं। इस तरह एस्सार अब गुजरात में निवेश के दूसरे दौर में कदम रख रहा है। 

एस्सार कैपिटल के निदेशक प्रशांत रुइया ने एमओयू पर हस्ताक्षर के बारे में कहा एस्सार के रणनीतिक निवेश में गुजरात लगातार आगे रहा है। हमें ऊर्जा और बुनियादी ढांचा क्षेत्र में 55,000 करोड़ रुपये के अतिरिक्त निवेश से राज्य की आर्थिक प्रगति में योगदान करने में खुशी हो रही है। ऊर्जा बदलाव के क्षेत्र में निवेश 30,000 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित होने वाली एक गीगावाट क्षमता की हरित हाइड्रोजन परियोजना में किया जाएगा। 

उधर, अदाणी समूह ने कहा है कि वह बिहार में तमाम क्षेत्रों में 8,700 करोड़ रुपये का निवेश करेगा। अदाणी एंटरप्राइजेज के निदेशक प्रणव अदाणी ने कहा समूह पहले ही 850 करोड़ का निवेश कर चुका है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *