डिलीवरी फीस से कमाई पर स्विगी व जोमैटो को 750 करोड़ का जीएसटी नोटिस

मुंबई- ग्राहकों से डिलीवरी चार्ज के नाम पर कमाई करने और उस पर टैक्स न भरने के मामले में जीएसटी विभाग ने स्विगी और जोमैटो को 750 करोड़ रुपये का डिमांड नोटिस भेजा है। इसमें 400 करोड़ का नोटिस जोमैटो को और 350 करोड़ का स्विगी को भेजा गया है। यह रकम जुलाई, 2017 से मार्च, 2023 तक के बीच की है। इनके डिलीवरी चार्ज पर 18 फीसदी का जीएसटी लगाया गया है। 

दोनों कंपनियों का कहना है कि डिलीवरी चार्ज कुछ और नहीं, बल्कि डिलीवरी पार्टनर्स की ओर से वहन की जाने वाली लागत है जो घर-घर खाना डिलीवरी करने के लिए जाते हैं। कंपनियां बस ग्राहकों से वह लागत वसूलती हैं और डिलीवरी पार्टनर्स को दे देती हैं। सूत्रों के मुताबिक, टैक्स अधिकारी इस बात से सहमत नहीं हैं।

2022 में स्विगी और जोमैटो को सभी ऑर्डर पर 5 फीसदी जीएसटी लेकर उसे जमा करने का आदेश दिया गया था। उससे पहले केवल उन्हीं रेस्तरां को जीएसटी भरना होता था, जो इस कर दायके के तहत पंजीकृत थे। पिछले महीने स्विगी ने प्लेटफॉर्म शुल्क दो रुपये से बढ़ाकर तीन रुपये कर दिया था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *