एक साल से निवेशकों को कोई फायदा नहीं दिया दीपक नाइट्राइट के शेयरों ने 

मुंबई- केमिकल कंपनी दीपक नाइट्राइट के शेयरों ने बाजार में कमाल का प्रदर्शन किया है। शेयर के भाव में पिछले कुछ सालों के दौरान इस कदम तेजी आई है कि उसमें पैसे लगाने वाले इन्वेस्टर्स मालामाल हो गए हैं। यही कारण है कि केमिकल शेयर दीपक नाइट्राइट की गिनती शेयर बाजार के सबसे शानदार मल्टीबैगरों में की जाती है। हालांकि पिछले एक साल में इसके शेयरों ने कोई फायदा नहीं दिया है।  

यह कंपनी वडोदरा मुख्यालय वाली एक केमिकल मैन्यूफैक्चरिंग कंपनी है. कंपनी के पास देश के कई राज्यों में केमिकल मैन्यूफैक्चरिंग प्लांट हैं. कंपनी के मुख्य प्लांट गुजरात के दहेज, महाराष्ट्र के रोहा व ताजोला और तेलंगाना के हैदराबाद में है. साल 1970 में स्थापित इस कंपनी का राजस्व पिछले वित्त वर्ष में 8,019 करोड़ रुपये रहा है. अभी कंपनी का एमकैप 28,420 करोड़ रुपये है। 

शुक्रवार को दीपक नाइट्राइट का शेयर 0.23 फीसदी लुढ़ककर 2,083 रुपये पर बंद हुआ था. बीते 5 दिनों में इसका भाव लगभग स्थिर रहा है. पिछले एक महीने के दौरान भाव 7 फीसदी से ज्यादा गिरा हुआ है, जबकि 6 महीने के हिसाब से भाव में 12 फीसदी से कुछ ज्यादा की तेजी है। एक साल के हिसाब से देखें तो शेयर करीब 8 फीसदी डाउन है। इसका 52 हफ्ते का उच्च 2,372.70 रुपये है। 

इस केमिकल शेयर की चाल पिछले दो साल से सीमित दायरे में है, लेकिन उससे पहले भाव में जबरदस्त रैली देखी गई है. पिछले 5 सालों के हिसाब से इसके शेयरों का भाव 730 फीसदी से ज्यादा चढ़ा हुआ है। बीते 10 सालों में 6,500 फीसदी की तेजी आई है। इसका मतलब हुआ कि अगर कोई इन्वेस्टर आज से 10 साल पहले दीपक नाइट्राइट के शेयरों में 10 हजार रुपये लगाता और उसे होल्ड किए रहता तो आज उसके निवेश का मूल्य बढ़कर साढ़े 6 लाख रुपये होता। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *