उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक का आईपीओ लिस्ट, 91 फीसदी का मिला फायदा 

मुंबई- उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक के शेयरों ने कल शेयर बाजार में जबरदस्त एंट्री की है। पहले ही दिन शेयरों ने निवेशकों तगड़ा लाभ दिलवा दिया। स्टॉक ने पहले दिन एनएसई (NSE) पर 40 रुपये पर कारोबार शुरू किया, जबकि इश्यू प्राइस 25 रुपये प्रति शेयर था, जबकि बीएसई (BSE) पर लिस्टिंग मूल्य 39.95 रुपये था। बैंक के आईपीओ को भी शानदार रिस्पांस मिला था। 

उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक के प्रारंभिक सार्वजनिक प्रस्ताव (आईपीओ) ने चालू कैलेंडर वर्ष में आइडियाफोर्ज टेक्नोलॉजी के बाद दूसरी सबसे अधिक सब्सक्रिप्शन संख्या दर्ज की। इसका आईपीओ सब्सक्रिप्शन के लिए 12-14 जुलाई के बीच खुला था और इस दौरान इसके आईपीओ को 101.91 गुना सब्सक्राइब किया गया। 

क्वालिफाईड इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स (QIB) आवंटित कोटा से 124.85 गुना शेयर खरीदने के साथ सबसे आगे थे, इसके बाद उच्च नेटवर्थ वाले व्यक्ति और खुदरा निवेशक थे जिन्होंने 81.64 गुना बोली लगाई थी और उनके लिए निर्धारित हिस्से से 72.11 गुना अधिक बोली लगाई थी। इसके अलावा, एंप्लॉयीज ने भी बोली लगाई थी और उनका हिस्सा 18.02 गुना सब्सक्राइब हुआ था। 

वाराणसी स्थित स्मॉल फाइनेंस बैंक ने 500 करोड़ रुपये जुटाए हैं, जिसका उपयोग निर्गम खर्चों को छोड़कर भविष्य की कैपिटल आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए अपने टियर -1 कैपिटल आधार को बढ़ाने के लिए किया जाएगा, जो इसके अग्रिमों में वृद्धि से उत्पन्न होने की उम्मीद है। ऑफर के लिए प्राइस बैंड 23-25 ​​रुपये प्रति शेयर था। 

इस आईपीओ को उचित मूल्य पर विचार करते हुए अधिकांश ब्रोकरेज से सब्सक्राइब रेटिंग प्राप्त हुई थी। आईपीओ के जरिए स्मॉल फाइनेंस बैंक ने 10 रुपये की फेस वैल्यू 20 करोड़ नए शेयर जारी किए हैं। यह बैंक 2016 में बना था और इसका कारोबार 2017 में शुरू हुआ था। 

मार्च वित्त वर्ष 2013 को समाप्त वर्ष के लिए लाभ पिछले वर्ष की तुलना में 558 प्रतिशत बढ़कर 405 करोड़ रुपये हो गया, जबकि शुद्ध ब्याज आय 44 प्रतिशत बढ़कर 1,529 करोड़ रुपये हो गई, शुद्ध ब्याज मार्जिन वित्त वर्ष 2012 में 8.8 प्रतिशत से बढ़कर वित्त वर्ष 2013 में 9.6 प्रतिशत हो गया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *