गुगल में भयंकर छंटनी, 12 हजार कर्मचारियों को निकालने की तैयारी में 

मुंबई- गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट Inc ने शुक्रवार (20 जनवरी) को अनाउंसमेंट की है कि वो अपनी वैश्विक कर्मचारियों में से 6% यानी 12,000 एम्प्लॉइज की छंटनी का प्लान बना रही है। अल्फाबेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने स्टाफ मेमो में इस बात की जानकारी दी है। 

हाल ही में अल्फाबेट के राइवल माइक्रोसॉफ्ट कॉर्प ने कहा था कि इस हफ्ते कंपनी अपनी 5% वर्कफोर्स (11,000 के करीब) को निकाल सकती है। माइक्रोसॉफ्ट और अल्फाबेट में बड़े स्तर पर छंटनी की खबरों से टेक्नोलॉजी सेक्टर में हलचल मच गई है। 

अल्फाबेट के CEO सुंदर पिचाई ने नोट में कहा, ‘गूगलर्स, मेरे पास शेयर करने के लिए कुछ खराब खबर है। हमने अपने कर्मचारियों में में से लगभग 12,000 को कम करने का फैसला किया है। हमने पहले ही अमेरिका में छंटनी से प्रभावित एम्प्लॉइज को एक अलग ईमेल भेज दिया है। इसका मतलब है कि हमें अपने कुछ अविश्वसनीय रूप से प्रतिभाशाली लोगों को अलविदा कहना होगा।’ 

सुंदर पिचाई ने कहा, ‘जिन लोगों को नियुक्त करने के लिए हमने कड़ी मेहनत की और जिनके साथ काम करना पसंद किया। मुझे इस छंटनी के लिए बहुत खेद है। मैं उन फैसलों की पूरी जिम्मेदारी लेता हूं, जो हमें यहां तक लेकर आए। पिछले दो सालों में हमने ड्रामेटिक ग्रोथ देखी है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं अपने मिशन की ताकत, हमारे उत्पाद एवं सेवाओं की वैल्यू और AI में हमारे शुरुआती निवेश की बदौलत हमारे सामने बड़े अवसर को लेकर आश्वस्त हूं।” 

अल्फाबेट में इस छंटनी का प्रभाव रिक्रूटमेंट, कॉरपोरेट फंक्शंस के साथ-साथ कुछ इंजीनियरिंग और प्रोडक्ट्स टीमों के एम्प्लॉइज पर पड़ेगा। गूगल ने कहा, ‘यह छंटनी ग्लोबल है और इसमें सबसे ज्यादा अमेरिका के एम्प्लॉइज प्रभावित होंगे। 

टेक्नोलॉजिकल प्रॉमिस की अवधि के दौरान आई है। जिसमें गूगल और माइक्रोसॉफ्ट सॉफ्टवेयर के नए एरिया में इन्वेस्ट कर रहे हैं, जिसे जनरेटिव आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के रूप में जाना जाता है। 

गूगल मैनेजर्स को ‘खराब प्रदर्शन’ करने वाले कर्मचारियों का विश्लेषण करने और उन्हें रैंक देने के लिए कहा गया है। कंपनी का प्लान 6% स्टाफ कम करने का है। सबसे कम रैंक वाले एमप्लॉइज को कंपनी से निकाल दिया जाएगा। 

उधर फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म स्विगी ने अपने 6,000 के टोटल वर्कफोर्स में से 6.33% यानी 380 एम्प्लॉइज की छंटनी कर दी है। इस बात की जानकारी शुक्रवार को स्विगी के CEO श्रीहर्ष मजेटी ने दी है। मजेटी ने कहा कि कंपनी के लिए यह बहुत ही मुश्किल फैसला है। 

श्रीहर्ष मजेटी ने कर्मचारियों को ईमेल कर कहा, ‘हम रिस्ट्रक्चरिंग एक्सरसाइज के हिस्से के रूप में अपनी टीम के साइज को कम करने के लिए बेहद कठिन फैसला ले रहे हैं। इस प्रोसेस में हम 380 टैलेंटेड स्विगीस्टर्स को अलविदा कह रहे हैं। यह सभी उपलब्ध विकल्प का तलाश करने के बाद लिया गया एक बहुत ही मुश्किल फैसला है। इससे गुजरने के लिए आप सभी से मैं माफी मांगता हूं।’ 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *