मुनाफे में भारी गिरावट से टेक कंपनियों में जारी रहेगा छंटनी का दौर 

मुंबई- वैश्विक मंदी के डर के बीच माइक्रोसॉफ्ट, मेटा और अमेजन जैसी बड़ी सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनियों के मुनाफे में भारी गिरावट की वजह से दुनियाभर में छंटनी का दौर अगले कुछ महीने तक जारी रहेगा। विश्लेषकों का कहना है कि मुनाफे में गिरावट की भरपाई के लिए ये कंपनियां न सिर्फ कर्मचारियों की छंटनी कर रही हैं बल्कि अपने कार्यालयों की संख्या भी घटा रही हैं। 

माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला ने 5 फीसदी कर्मचारियों को निकालने की घोषणा करते हुए कहा, कंपनी ने अपने हार्डवेयर विभाग में बदलाव कर रही है। लीज पर लिए गए कुछ कार्यालय परिसरों की संख्या कम करेगी। इससे कंपनी को करीब 1.2 अरब डॉलर की बचत होगी। 

दरअसल, अमेरिका की पांच सबसे बड़ी आईटी कंपनियों मेटा, अमेजन, एपल, अल्फाबेट और माइक्रोसॉफ्ट में से हर एक का मुनाफा अक्तूबर-दिसंबर तिमाही में घट सकता है। इसे देखते हुए विश्लेषकों ने अक्तूब से जनवरी तक इन पांच कंपनियों के कुल राजस्व अनुमान को 5 फीसदी घटाकर 561.4 अरब डॉलर कर दिया है। 

इन आईटी कंपनियों की आय में 9.5 फीसदी तक गिरावट आ सकती है। निवेश फर्म आयरनहोल्ड कैपिटल के मुख्य निवेश अधिकारी सिद्धार्थ सिंघवी का कहना है कि नौकरियों के लिहाज से निकट भविष्य में अच्छी खबर की उम्मीद नहीं है। कम-से-कम अगली तीन तिमाहियों तक और छंटनी होगी। 

अमेजन : कंपनी की आय 38 फीसदी घटी है। कमाई 22 साल में सबसे धीमी गति से बढ़ी है। 

मेटा : मुनाफे में 42 फीसदी की गिरावट आ सकती है। यह लगातार पांचवीं तिमाही है, जब कंपनी को नुकसान झेलना पड़ा है। राजस्व भी 7 फीसदी घटने का अनुमान है। 

माइक्रोसॉफ्ट : राजस्व 2.4 फीसदी बढ़ सकता है, लेकिन वृद्धि की रफ्तार करीब 24 तिमाहियों में सबसे कम होगी। मुनाफा 9 फीसदी घट सकता है। 

एपल : 15 तिमाहियों में पहली बार कंपनी के राजस्व में गिरावट आ सकती है। इसकी प्रमुख वजह चीन में कोरोना की वजह से एपल के सबसे बड़े आपूर्तिकर्ता फॉक्सकॉन में उत्पादन बाधित होना है। 

अल्फाबेट : राजस्व में वृद्धि की रफ्तार 10 तिमाहियों में सबसे कम रह सकती है। 

अमेरिका की पांचों कंपनियों ने 2020 में औसतन 45 फीसदी भर्तियां की थीं। 2021 में इन कंपनियों ने 20.5 फीसदी नौकरियां दी थीं। एपल ने सबसे ज्यादा भर्तियां की थी। 

18,000 कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की योजना के तहत अमेजन अब अमेरिका, कनाडा और कोस्टारिका में छंटनी कर रहा है। वर्कर एडजस्टमेंट एंड रिट्रेनिंग नोटिफिकेशन (डब्ल्यूएआरएन) साइट के मुताबिक, कंपनी सिएटल और बेलेव्यू में 2,300 कर्मचारियों को निकाल रही है। इन्हें वार्निंग नोटिस भेजा गया है। 

ट्विटर एक बार फिर कर्मचारियों की छंटनी की तैयारी में है। सोशल मीडिया मंच की कमान एलन मस्क के हाथ में आने के बाद से 50 फीसदी कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाया जा चुका है। मस्क ने नवंबर में कहा था कि विज्ञापनदाताओं के बाहर होने से ट्विटर के राजस्व में भारी गिरावट आई है। चौथी तिमाही के लिए कंपनी का राजस्व करीब 40 फीसदी घटकर 1.025 अरब डॉलर रह गया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *