गौतम अदाणी ने कहा, मेरी सफलता केवल मोदी सरकार से नहीं, हर सरकार से है  

मुंबई- आजादी के 75 साल में से 58 साल 1 ट्रिलियन डॉलर की GDP के लिए लगे। 12 साल में 2 ट्रिलियन और सिर्फ 5 और सालों में 3 ट्रिलियन। लेकिन अब हम जिस तेजी से बढ़ रहे हैं, अगले दशक में हर 12 से 18 महीनों में हम GDP में 1 ट्रिलियन डॉलर जोड़ेंगे। 2050 तक भारत 30 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा। अडाणी ग्रुप के मालिक गौतम अडाणी ने यह बात कही। 

गोतम अडाणी ने कहा, प्रधानमंत्री और मैं एक ही प्रदेश से आते हैं, इसलिए आरोप लगाना आसान हो जाता है। ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि मेरे खिलाफ ऐसा बोला जाता है। हमारी सफलता किसी एक की वजह से नहीं पर 3 दशकों में कई सरकारों की नीति बदलाव की वजह से है। 

अदाणी ने कहा, राजीव गांधी जब प्रधानमंत्री थे तब मेरा सफर शुरू हुआ। उन्होंने एग्जिम पॉलिसी को बढ़ावा दिया तो मेरा एक्सपोर्ट हाउस शुरू हुआ। अगर वो न होते तो मेरी शुरुआत ऐसी न होती। 1991 में आया जब नरसिम्हा राव और मनमोहन सिंह ने आर्थिक सुधार शुरू किए। मेरे साथ बहुत लोगों को इसका फायदा हुआ। 

1995 में जब केशुभाई पटेल गुजरात के सीएम बने तब तक सिर्फ मुंबई से दिल्ली का NH-8 ही डेवलप हुआ था। पॉलिसी के बदलाव से मुंद्रा पर पहला पोर्ट बनाने का मौका मिला। 2001 में जब नरेंद्र मोदी गुजरात के सीएम बने तो उनकी नीतियों से उद्योग और रोजगार बढ़ा। आज पीएम मोदी वही चीज राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कर रहे हैं। 

ऑस्ट्रेलिया के साथ कुछ राज्यों में कारोबार के विरोध पर अडाणी ने कहा, ‘विरोध लोकतंत्र का हिस्सा है। मैं ये मानता हूं कि हमारे देश के लोकतंत्र ने हम सबको आर्थिक आजादी और अवसर दिए हैं। मैं आलोचना को गलत नहीं मानता। हमेशा सामने वाले का पक्ष समझने की कोशिश करता हूं। ये भी मानता हूं कि मैं हमेशा सही नहीं हूं। हर आलोचना में सुधार का मौका ढूंढता हूं।’ 

अडाणी ने कहा, ‘NDTV एक विश्वसनीय, स्वतंत्र, वैश्विक नेटवर्क होगा, जिसमें मैनेजमेंट और एडिटोरियल के बीच एक स्पष्ट लक्ष्मण रेखा होगी। आप अंतहीन बहस कर सकते हैं और मैं जो कह रहा हूं उसके एक-एक शब्द की व्याख्या कर सकता हूं, जैसा कि बहुत से लोगों ने किया है। हमें जज करने से पहले थोड़ा समय दें।’ 

अडाणी ग्रुप का कारोबार एनर्जी, पोर्ट, लॉजिस्टिक्स, माइनिंग, गैस, डिफेंस एवं एयरोस्पेस और एयरपोर्ट जैसे क्षेत्रों तक फैला है। ग्रुप पर करीब 2 लाख करोड़ रुपए का कर्ज है, जिसे लेकर कई लोग सवाल उठाते रहे हैं। इसे लेकर अडाणी ने कहा, हम तो आर्थिक स्तर पर बेहद मजबूत और सुरक्षित हैं। ये बातें 2 तरह के लोग कह रहे हैं। 

अडाणी ने कहा, ‘हकीकत ये है कि पिछले 9 सालों के दौरान हमारा मुनाफा, हमारे कर्ज से दोगुना तेजी से बढ़ा है। कई एक्सपर्ट दावा कर रहे हैं कि साल 2023 में ग्लोबल मंदी आएगी। इसे लेकर अडाणी ने कहा, ‘मैं बहुत आशावादी हूं और कभी उम्मीद नहीं छोड़ता। पहले भी 2008 में बहुत सारे लोगों ने मंदी के दौरान भारत में आर्थिक संकट की बात कही थी, पर भारत ने इसे गलत साबित किया।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *