कोरोना का नया मरीज उत्तर प्रदेश में, आगरा में मिला पहला रोगी  

मुंबई- यूपी के आगरा में चीन से लौटा एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। उसके सैंपल को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम कारोबारी के घर पहुंच गई है। उसके संपर्क में आने वाले लोगों को भी ट्रेस किया जा रहा है। आगरा के शाहगंज क्षेत्र का रहने वाला युवक पेशे से कारोबारी है। कारोबारी 23 दिसंबर को चीन से लौटा है। 

उधर, कानपुर में भी एक युवक कोरोना पॉजिटिव मिला है। एक दिन पहले मेरठ में पांच साल के बच्चे की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। तीन दिन पहले गुजरात के भावनगर में एक कारोबारी भी संक्रमित मिला था। 

देश में कोरोना के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार अलर्ट हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने कहा कि चीन, जापान सहित 5 देशों से आने वाले यात्रियों के लिए RT-PCR टेस्ट जरूरी होगा। यदि इन देशों के किसी भी यात्री में कोविड-19 के लक्षण पाए जाते हैं या टेस्ट पॉजिटिव पाया जाता है तो इन लोगों को क्वारैंटाइन किया जाएगा। 

इधर,केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों को एक बार फिर लेटर लिखा है। उन्होंने 27 दिसंबर को देशभर में कोविड से जुड़े हेल्थ सेंटर्स में मॉक ड्रिल करने को कहा है। खासकर ऑक्सीजन प्लांट और वेंटिलेटर को लेकर राज्यों को आगाह किया है। 

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य में लगातार लोगों की टेस्टिंग की जा रही है। उन्होंने कहा कि जब से कोरोना शुरू हुआ है, तब से बिहार अलर्ट रहा है। हर दिन लगभग 45 हजार लोगों की जांच की जा रही है और वैक्सीनेशन भी किया जा रहा है। सरकार ने विदेश से आने वाले 2% यात्रियों की रैंडम जांच का निर्देश दिया ।  

सरकार ने चीन, जापान सहित 5 देशों से आने वाले यात्रियों के लिए RT-PCR टेस्ट जरूरी कर दिया है। स्वास्थ्य मंत्री मांडविया ने कहा कि ‘टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट-वैक्सीनेट’ और बचाव के तरीकों का पालन करना ही कोविड मैनेजमेंट के लिए सबसे कारगर रणनीति होगी। राज्यों को सलाह दी जाती है कि वे अपना सर्विलांस सिस्टम मजबूत बनाएंगे, टेस्टिंग की प्रक्रिया में तेजी लाएंगे और अस्पतालों के इन्फ्रास्ट्रक्चर की तैयारी सुनिश्चित करेंगे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *