सबसे बड़ी फार्मा डील- बिक सकती है ग्लैंड फार्मा, चीनी कंपनी बेचेगी हिस्सेदारी

मुंबई- देश की सबसे बड़ी फार्मा डील होने वाली है। खबर है कि भारतीय शेयर बाजार में सूचीबद्ध ग्लैंड फार्मा बिक सकती है। एडवेंट इंटरनेशनल, बैरिंग प्राइवेट इक्विटी एशिया (पीई), बैन कैपिटल, ब्लैकस्टोन, कार्लाइल और केकेआर खरीदने की दौड़ में हैं। चीनी अरबपति गुओ गुआंगचांग का शंघाई फोसुन फार्मास्युटिकल की ग्लैंड फार्मा में सबसे अधिक 57.86% हिस्सेदारी है। जो भी कंपनी ग्लैंड फार्मा को खरीदेगी, उसे 26 फीसदी अतिरिक्त हिस्सेदारी खरीदने के लिए ओपन ऑफर भी लाना होगा। 

हैदराबाद की ग्लैंड फार्मा एंटीबायोटिक्स, ऑन्कोलॉजी और कार्डियोलॉजी उपचार जैसी इंजेक्शन वाली दवाओं में माहिर है। लगभग 60 देशों में इसकी मौजूदगी है। फोसुन फार्मा ने केकेआर एंड कंपनी सहित एक निवेशक समूह से 2017 में लगभग 1.1 बिलियन डॉलर में ग्लैंड में 74% हिस्सेदारी ली थी। ग्लैंड फार्मा नवंबर, 2020 में 1,500 रुपये के भाव पर 6,479 करोड़ रुपये का आईपीओ लाई थी। 

ब्लूमबर्ग के मुताबिक, फोसुन अपनी बैलेंस शीट को मजबूत करने के लिए ग्लैंड फार्मा में अपनी हिस्सेदारी बेचने पर विचार कर रहा है। कंपनी चीन के प्रॉपर्टी क्षेत्र में मंदी के कारण वित्तीय तनाव में आ गई है। साथ ही यह नई पूंजी भी जुटाने में अब सक्षम नहीं है। ग्लैंड फार्मा को सितंबर तिमाही में 241.2 करोड़ रुपये का फायदा हुआ था। एक साल पहले की तुलना में इसमें 20 फीसदी की कमी आई है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *